MP स्टेट बार कौंसिल की 12 समितियों का गठन, इन निर्वाचित को दायित्व

Advertisements

जबलपुर।  एमपी स्टेट बार कौंसिल की 21 विभिन्न समितियों का गठन होने के बाद सोमवार को कार्यकारिणी समिति के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष व अनुशासन समिति के अध्यक्ष का चुनाव हुआ। इसके लिए विधिवत बैठक आहूत की गई। कार्यकारिणी समिति के सदस्य जय प्रकाश मिश्रा, ग्वालियर ने वर्चअल रूप से वरिष्ठ अधिवक्ता मृगेंद्र सिंह, जबलपुर के नाम का प्रस्ताव अध्यक्ष पद के लिए रखा। सदस्य नरेंद्र कुमार जैन, इंदौर ने समर्थन किया। इस तरह पांच सदस्यीय कार्यकारिणी समिति में मृगेंद्र सिंह अध्यक्ष निर्वाचित हो गए।

वर्चुअल चुनाव हुए: कार्यकारिणी समिति के उपाध्यक्ष के रूप में वर्चुअल रूप से नरेंद्र कुमार जैन, इंदौर ने अहादुल्ला उस्मानी, जबलपुर के नाम का प्रस्ताव रखा, जिस पर सदस्य अखंड प्रताप सिंह, रीवा ने समर्थन किया।

इस तरह पांच सदस्यीय कार्यकारिणी समिति के उपाध्यक्ष उस्मानी निवार्चित हुए। दूसरे चरण में अनुशासन समिति की बैठक आयोजित हुई। इस दौरान अहादुल्ला उस्मानी, जबलपुर ने अखंड प्रताप सिंह, रीवा के नाम का प्रस्ताव अध्यक्ष पद के लिए रखा, जिसे पदेन सदस्य एनके जैन, जबलपुर ने समर्थन दिया। इस तरह तीन सदस्यीय अनुशासन समिति के सदस्यों की सहमति से अखंड प्रताप अनुशासन समिति के अध्यक्ष निर्वाचित हो गए।

पेपरलैस वर्क कल्चर को देंगे गति : नवनिर्वाचित पदाधिकारियों ने संकल्प लिया कि वे स्टेट बार के वर्क कल्चर को पेपरलैस बनाने की दिशा में कार्य करेंगे। कार्यालय के दस्तावेजों का शीघ्र डिजिटाइजेशन किया जाएगा। साथ ही अधिवक्ताओं के कल्याण के लिए नई-नई योजनाएं लाई जाएंगी। नए अधिवक्ता बनने के लिए ऑनलाइन फॉर्म की प्रणाली भी लागू की जाएगी। पुराना वर्क कल्चर पुराने दिनों की बात हो जाएगा। स्टेट बार भी हाईटैक होगा।

Advertisements