Organic Food Benefits: डायबिटीज़ से लेकर कैंसर तक, ऑर्गेनिक खाना खाएंगे तो दूर रहेंगी ये बीमारियां

Advertisements

नई दिल्ली। Organic Food Benefits: आमतौर पर ताज़ा फल और सब्ज़ियों को खाने को सेहतमंद डाइट से जोड़ा जाता है, हालांकि, ये सही नहीं है। अगर आप रोज़ाना ताज़ा फलों और सब्ज़ियों का सेवन करते हैं, तो इसका मतलब ये नहीं है कि आपकी सेहतमंद खाना खा रहे हैं। फसल को कीड़ों से बचाने के लिए जिन कैमिकल्स को उपयोग किया जाता है, वे आगे चलकर हमारे शरीर को हानि पहुंचाते हैं। जिसकी वजह से लोगों को न सिर्फ हार्मोनल इनबैलेंस बल्कि डायबिटीज और हाई बीपी जैसी ख़तरनाक बीमारियों का जोखिम भी बढ़ जाता है।

पोषण से भरपूर होता है ऑर्गेनिक खाना

एक्सपर्ट्स भी ऑर्गेनिक फूड के फायदों को गिनाते हुए उसे खाने की सलाह देते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि ऑर्गेनिक खाने में कैमिकल्स का इस्तेमाल नहीं किया जाता। हेल्थ एक्सपर्ट के मुताबिक, ऑर्गेनिक खाने में पाए जाने वाले पोषक तत्व हमारी सेहत को सही मायने में बड़े फायदे पहुंचाते हैं। ये न सिर्फ स्वाद में बेहतर होते हैं, बल्कि इन्हें खाने से बाहर का अनहेल्दी खाना खाने की आदत भी ख़त्म की जा सकती है। बाहर का खाना ज़्यादातर बीमारियों के लिए ज़िम्मेदार होता है।

ऑर्गेनिक फूड बचाएगा जंक फूड से

हेल्थ एक्सपर्ट का कहना है कि कई लोग चाहते हुए भी ऑर्गेनिक खाने के महंगा होने की वजह से उससे बचते हैं, हालांकि अगर महीने भर की कोस्ट देखी जाए, तो ये हमारी आम डाइट से सस्ता पड़ता है। ऐसा इसलिए क्योंकि ऑर्गेनिक खाने को शामिल करने से आपके बाहर के खाने की लत छूट जाती है। जी हां, ऑर्गेनिक खाना आपको महंगे फास्ट फूड से बचाता है और इसलिए आप बीमार भी कम पड़ते हैं।

ऑर्गेनिक फूड का फायदे

  1. ऑर्गेनिक फूड का उत्पादन पारंपरिक तरीके से किया जाता है इसलिए इसके उत्पादन में किसी भी तरह के रासायनिक खाद या कैमिकल का उपयोग नहीं किया जाता। एक्सपर्ट्स के अनुसार, इनमें विटामिन, खनिज, प्रोटीन, कैल्शियम, आयरन जैसे पौष्टिक तत्व 50 प्रतिशत ज़्यादा होते हैं। जो दिल की बीमारी, माइग्रेन, हाई ब्लडप्रेशर, डायबिटीज़ और यहां तक कि, कैंसर जैसी बीमारियों से भी शरीर की रक्षा करते हैं।

  2. ऑर्गेनिक फूड शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ावा देता हैं, त्वचा में निखार लाता है, शरीर में चर्बी को संतुलित रखता है यानी आपका वज़न बढ़ने से रोकता है।

  3. ऑर्गेनिक खेती करने से पहले ज़मीन को लंबे समय के लिए छोड़ दिया जाता है, ताकि उसमें बचे पेस्टीसाइड्स ख़त्म हो जाएं। इसकी वजह से ऑर्गेनिक फूड में विटामिन और खनिज की मात्रा ज़्यादा होती है। इसमें खाद की जगह घास पात, गोबर आदि का इस्तेमाल किया जाता है, जो मिट्टी की गुणवत्ता को बढ़ाते हैं। कई बार घर की रसोई से निकली सामग्री भी खाद के रूप में काम आती है।

  1. आजकल याददाश्त कमज़ोर होना, भूख न लगना, नींद न आना, मोटापा, अल्ज़ाइमर और कई तरह के कैंसर जैसी बीमारियां बढ़ रही हैं। इसलिए ज़रूरी है कि हम ऑर्गेनिक फूड का ही इस्तेमाल करें ताकि हमारे शरीर को अंदर से सही पोषण मिले।

  2. अगर आप घर पर सब्ज़ियां या फल उगाते हैं, तो इसमें सब्ज़ी के बचे छिलकों का इस्तेमाल कर अपने किचेन गार्डन के लिए खाद बना सकते हैं। इसके लिए घर की अतिरिक्त बची हुई चीज़ों का भी इस्तेमाल हो सकता है।

Advertisements