Advertisements

इंदौर में सड़क पर थूकने वालों पर 500 रुपए का फाइन

इंदौर। जहां-तहां पान-गुटके की पीक थूकने वालों पर इंदौर नगर निगम सख्ती शुरू कर दी है। सोमवार सुबह राजवाड़ा क्षेत्र में सार्वजनिक स्थानों पर थूकने वाले 6 लोगों पर दंडात्मक कार्रवाई की गई और सभी से 500-500 रुपए का फाइन लिया गया। निगम ने महत्वपूर्ण जंक्शन और बड़े चौराहों के ट्रैफिक सिग्नल के पास फाइन करने वाली टीम तैनात किया है।

 

अलग-अलग स्तर पर हुई चर्चाओं में बड़ी संख्या में महापौर से यह शिकायत हुई थी कि थूकने वालों पर कार्रवाई की जाए। सड़कों के डिवाइडर, फुटपाथ, चेंबर आदि पान की पीक से रंगे रहते हैं। थूकने वालों के कारण दूसरे लोगों को परेशानी होती है और बीमारियां फैलती हैं। शहर की तकरीबन सभी प्रमुख सड़कों के डिवाइडर थूक से गंदे हो रहे हैं। निगम उन्हें धुलवाता है लेकिन लोग थूककर फिर गंदा कर देते हैं।

निगमायुक्त कह चुके हैं कि रेड सिग्नल पर खड़े वाहनों पर सवार लोग ज्यादा थूकते हैं। वहीं ऐसे लोगों को पकड़ना संभव है। जो नागरिक इस मामले में निगम की मदद करना चाहते हैं, वे ‘इंदौर 311’ ऐप में फोटो खींचकर संबंधित की जानकारी दे सकते हैं।

बसों में डस्टबिन अनिवार्य

महापौर ने बताया कि निजी और खासतौर से पब्लिक ट्रांसपोर्ट क्षेत्र की बसों में डस्टबिन रखना सोमवार से अनिवार्य किया जा रहा है। सहचालक या कंडक्टर को बस यात्रियों द्वारा खाने-पीने के दौरान निकलने वाला कचरा डस्टबिन में डलवाना अनिवार्य होगा। बाद में गीला और सूखा कचरा अलग-अलग कर निगम के वाहनों को देना होगा। आयुक्त ने जारी आदेश में संचालकों को कहा है कि वे बसों की सफाई करने वालों को यह ताकीद करें कि सफाई के बाद कचरा निगम के वाहन में डालें।

Hide Related Posts