MPBSE MP Board 10th 12th Exam 2021 : एमपी बोर्ड 10वीं 12वीं परीक्षा पैटर्न में बड़ा बदलाव, नहीं होंगे दीर्घउत्तरीय प्रश्न

MPBSE MP Board 10th 12th Exam 2021 : एमपी बोर्ड 10वीं 12वीं परीक्षा पैटर्न में बड़ा बदलाव हुआ है। मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं या एमपीबीएसई ) ने सत्र 2020-2021 की बोर्ड परीक्षा में 30 फीसदी प्रश्न ऑब्जेक्टिव पैटर्न में पूछने का फैसला किया है। एमपीबीएसई ( एपी बोर्ड ) ने कहा है कि तीन घंटे की परीक्षा में दीर्घउत्तरीय प्रश्न नहीं होंगे। परीक्षा पैटर्न में बदलाव की जानकारी मध्य प्रदेश शिक्षा विभाग ने ट्वीट करके दी। विभाग ने ट्वीट कर कहा – ‘इस बार बोर्ड परीक्षा में 30 फीसद वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जाएंगे, दीर्घ उत्तरीय नहीं होंगे। मंडल ने बोर्ड परीक्षा के पैटर्न में बदलाव किया है। नए पैटर्न का ब्लू प्रिंट वेबसाइट पर  अपलोड कर दिया गया है।

नए पैटर्न के मुताबिक अब सभी विषयों में 30 फीसदी ऑब्जेक्टिव आधारित, 30 फीसदी सब्जेक्टिव और 40 फीसदी तार्किक प्रश्न रहेंगे। बोर्ड हर विषय के सिलेबस को तीन यूनिट में बांट दिया है। प्रश्नपत्र में अब दीर्घउत्तरीय प्रश्नों के बदले छोटे-छोटे प्रश्न पूछे जाएंगे,  जिनका उत्तर चैप्टर को पढ़ने व समझने के बाद ही दिया जा सकेगा। एक, तीन या चार अंक के ही प्रश्न होंगे। इससे पहले बोर्ड परीक्षा में 25 फीसदी ऑब्जेक्टिव व 75 फीसदी लघु व दीर्घउत्तरीय प्रश्न होते थे।

बोर्ड ने हर विषय का क्वेश्चन बैंक भी वेबसाइट पर अपलोड कर दिया है। परीक्षार्थी अब इनके मतुाबिक तैयारी कर सकते हैं।

ऐसा होगा नया पैटर्न 
100 कुल अंक
30 अंकों के ऑब्टेक्टिव प्रश्न
30 अंकों के लघु उत्तरीय प्रश्न (3-3 अंक के 10 प्रश्न)
40 अंकों के तार्किक प्रश्न (4-4 अंक के 10 प्रश्न)

पुराने पैटर्न में दीर्घउत्तरीय व निबंधात्मक प्रश्न भी होते थे जो नए पैटर्न से हटा दिए गए हैं।

अब 31 दिसंबर तक भरें 10वीं और 12वीं के परीक्षा फॉर्म
एमपी बोर्ड 10वीं और 12वीं की ऑनलाइन परीक्षा फॉर्म भरने की आखिरी तारीख को बढ़ा दिया गया है। बढ़ी हुई तारीखों के मुताबिक अब उम्मीदवार 31 दिसंबर, 2020 तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। अब ऐसे में जो भी स्टूडेंट्स 10वीं और 12वीं की परीक्षा फॉर्म भरने से चूक गए हैं, वे अब इस तारीख तक के लिए आवेदन कर सकते हैं। बस हां स्टूडेंट्स इस बात का ध्यान रखें कि 10वीं और 12वीं की परीक्षा के लिए उम्मीदवारों को लेट फीस देनी होगी। इस संबंध में एमपी बोर्ड ने एक ट्वीट करके जानकारी दी है। बोर्ड ने ट्वीट में लिखा, ‘शैक्षणिक सत्र 2020-21 की परीक्षाओं के लिए परीक्षा आवेदन पत्र अब 31 दिसंबर तक सिर्फ 100 रुपए विलंब शुक्ल के साथ जमा कर सकते है।’