जबलपुर, कटनी सतना, रीवा और सागर स्टेशन के वेटिंग रूम में बैठने का देना होगा शुल्क

Advertisements

जबलपुर। रेलवे ने अपनी आय के स्रोत बढ़ाने के लिए यात्री सुविधाओं में कटौती शुरू कर दी है। अब पहले की तरह यात्रियों को स्टेशन में ट्रेन के इंतजार के दौरान वेटिंग रूम में बैठने की नि: शुल्क सुविधा नहीं मिलेगी । जबलपुर रेल मंडल ने इसकी शुरुआत कर दी है। वह जबलपुर समेत मंडल के 5 स्टेशनों में बनाए गए वेटिंग रूम की जिम्मेदारी निजी कंपनियों को देगा, ताकि उसमें मिलने वाली सुविधाओं का संचालन करने के साथ बैठने वाले यात्रियों का निर्धारित शुल्क वसूला जा सके।

10 रुपये प्रति घंटे का लगेगा चार्ज: जबलपुर रेलवे स्टेशन को इन दिनों विकसित किया जा रहा है। इसमें प्लेटफार्म नंबर एक और छह को भी विस्तारित और सुविधा युक्त बनाया गया है। यहां पर बनाए गए वेटिंग रूम को निजी हाथों में देकर उन्हें संचालित करने की जिम्मेदारी दी जाएगी। रेलवे ने इसके लिए तैयारी शुरू कर दी है । नई प्रक्रिया के मुताबिक अब एसी फर्स्ट, सेकंड और थर्ड श्रेणी के यात्रियों को प्लेटफार्म के वेटिंग रूम में बैठने के दौरान कम से कम 10 रूपये प्रति घंटा चार्ज देना होगा ।

वेटिंग रूम में ही लेना होगा खाना: वेटिंग रूम में भोजन करने के लिए अंदर लगे स्टॉल से भोजन खरीदना व खाना होगा। जबलपुर रेलवे स्टेशन के अलावा कटनी सतना, रीवा और सागर स्टेशन में नई योजना के तहत वेटिंग रूम की सुविधा होगी। वर्तमान में दिल्ली के स्टेशनों में इस तरह की सुविधा दी जा रही है । इस मॉडल को आधार बनाकर रेलवे अब देशभर के सभी 63 रेल मंडलों में इसे लागू करने जा रहा है।

Advertisements