नोएडा में पैसा उगाही करने गए जबलपुर के 2 पुलिस उपनिरीक्षक बर्खास्त, 2 अन्य पर कार्रवाई, जनिये पूरा मामला

Advertisements

भोपाल। एमपी सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कड़ा रुख अपनाते हुये नोयडा यूपी  में अवैध रूप से पैसे मांगने और आपराधिक षड्यंत्र रचने संबंधी अवैधानिक कृत्य व भ्रष्ट आचरण प्रदर्शित करने के लिए सायबर जोन-जबलपुर के दो उप निरीक्षकों तथा एक आरक्षक को सेवा से बर्खास्त करने के निर्देश दिए हैं।
उक्त मामले में एक अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक को पुलिस मुख्यालय अटैच किया गया है।

यह है मामला
स्टेट साइबर सेल के एसआई पंकज साहू और एसआई राशिद खान एक मामले की जांच के लिए नोएडा गए थे। वे शुक्रवार दोपहर कार से नोएडा के सेक्टर 18 पहुंचेे। एसआई पंकज कार में लैपटॉप पर काम कर रहे थे। एसआई राशिद कार से उतरकर संदिग्ध का पता पूछने लगे। इसी दौरान कार सवार बदमाश वहां पहुंचे। उन्होंने एसआई खान को घेरकर छेड़छाड़ का आरोप लगाया। एसआई राशिद के सर्विस पिस्टल निकाली, तो आरोपियों ने उसे छीन ली और उन्हें अपनी कार में ले जाने लगे। इस बीच आवाज सुनकर कार में बैठे एसआई पंकज उतरे और आरोपियों पर पिस्टल तान दी। इसके बाद आरोपी भाग गए।

इसे भी पढ़ें-  National Sports Awards: गोल्डन ब्वॉय नीरज चोपड़ा समेत 11 खिलाड़ियों को मिलेगा खेल रत्न पुरस्कार, पढ़ें पूरी लिस्ट

पैसे मांगने पर हुआ था विवाद
नोएडा पुलिस के अनुसार दोनों एसआई और उनके साथ मौजूद आरक्षक आसिफ ठगी के मामले की जांच के लिए नोयडा पहुंचे थे। मामले में उन्होंने नोयडा से सूर्यभान यादव को पकड़ा। उसे छोडऩे के एवज में चार लाख 70 हजार रुपए की मांग की थी। उसके बाद विवाद बढ़ा और सूर्यकांत समेत उसके भाई शशिकांत व अन्य ने उनसे विवाद किया। मामले में सूर्यकांत और शशिकांत को भी नोएडा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। एसआई पंकज साहू, एसआई राशिद खान और आरक्षक आसिफ के खिलाफ अपराधिक षडयंत्र अवैध रूप से पैसे मांगने का केस दर्ज किया गया है।

Advertisements