जज्बे को सलाम: पायलट पति हुआ शहीद तो एक साल में ही इंडियन एयरफोर्स में शामिल हुई पत्नी, बनी फ्लाइंग ऑफिसर

Advertisements

हैदराबाद।  इंडियन एयरफोर्स के शहीद पायलट स्‍क्‍वॉड्रन लीडर समीर अबरोल की पत्‍नी गरिमा अबरोल भी अब वायुसेना में ऑफिसर बन गई हैं। 1 फरवरी 2019 को मिराज-2000 लड़ाकू विमान के क्रैश होने के कारण स्‍क्‍वॉड्रन लीडर समीर अबरोल शहीद हो गए थे।

 

समीर की शहादत के बाद गरिमा ने साहस से काम लिया और आज वह इंडियन एयरफोर्स की यूनिफॉर्म पहन चुकी हैं। पति की शहादत गरिमा के हौंसलों को कमजोर नहीं कर सकी और वह एक साल के भीतर ही वायुसेना का हिस्सा हो गईं।

दरअसल, शहीद समीर अबरोल की पत्नी गरिमा अबरोल एयरफोर्स अकेडमी से पास आउट हो गई हैं और वह फ्लाइंग ऑफिसर बन गई हैं। डिफेंस पीआरओ शिलॉन्ग ने रविवार को यह जानकारी दी। हैदराबाद के डुंडीगल में शनिवार को एयरफोर्स एकेडमी में हुई पासिंग आउट परेड में गरिमा अबरोल भी शामिल थीं, जहां केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह मौजूद थे।

इसे भी पढ़ें-  WhatsApp का ब्लू टिक बंद है? ऐसे जानें आपका मैसेज पढ़ा है या नहीं

पति की मौत के बाद इंस्टाग्राम पर भावुक पोस्ट लिखकर गरिमा सुर्खियों में रहीं थीं। उन्होंने दुर्घटना के लिए पुराने विमान और सरकारी रवैये को दोषी ठहराया था। उन्होंने लिखा था, ‘कितने और पायलटों को इस बात के लिए कुर्बानी देनी होगी जिससे इस सिस्टम के लोगों को एहसास हो कि कुछ गलत हुआ है। आपको जगाने के लिए कितने और पायलटों को अपनी जान देनी होगी?’

गाजियाबाद निवासी समीर से गरिमा की शादी 2015 में हुई थी। पेशे से फीजियोथेरेपिस्ट गरिमा ने पति की मौत के बाद वायुसेना में शामिल होने का फैसला किया। उन्होंने एएफएसबी वाराणसी से एसएसबी की परीक्षा पास की। बता दें कि 2019 के उस विमान हादसे में एक अन्य पायलट की मौत हुई थी।

इसे भी पढ़ें-  कैबिनेट फेरबदल की कवायद तेज? पीएम मोदी ने मंत्रियों संग की हाई लेवल बैठक, अमित शाह और नड्डा भी थे मौजूद

Advertisements