MP Education News: मध्‍य प्रदेश के 7 हजार 910 शिक्षक किताब देखकर देंगे

Advertisements

भोपाल । सत्र 2019-20 में दसवीं व बारहवीं की बोर्ड परीक्षा में जिन स्कूलों का परीक्षा परिणाम 40 फीसद से कम आया है। उन स्कूलों के शिक्षकों की स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा दक्षता मूल्यांकन किया जा रहा है। इस परीक्षा में प्रदेश से 7 हजार 910 शिक्षक शामिल होंगे। इसमें शिक्षक पाठ्य पुस्तक देखकर परीक्षा दे सकते हैं। इस बार मिडिल स्कूल के 6299 और हाई व हायर सेकेंडरी के 1611 शिक्षकों के दक्षता का आंकलन होगा। इस संबंध में लोक शिक्षण संचालनालय (डीपीआई) ने आदेश जारी कर दिए हैं। यह परीक्षा 27 व 28 दिसंबर को आयोजित की जाएगी।

हाइ एवं हायर सेकेंडरी स्कूलों के शिक्षकों की परीक्षा 27 दिसंबर को दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक आयोजित होगी। वहीं माध्यमिक विद्यालयों के शिक्षकों की परीक्षा 28 दिसंबर को दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक होगी।

सभी विषयों के शिक्षकों की परीक्षा होगी। बता दें, कि पिछले साल भी स्कूल शिक्षा विभाग ने दसवीं बोर्ड परीक्षा में 30 फीसद से कम परीक्षा परिणाम लाने वाले स्कूलों के शिक्षकों की परीक्षा दो बार ली थी। दुबारा फेल होने पर प्रदेश के 16 शिक्षकों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति दी गई थी।

जिले के 35 शिक्षक परीक्षा में होंगे शामिल

जिले से 35 शिक्षक परीक्षा में शामिल होंगे। इसमें मिडिल के 21 और हायर सेकेंडरी के 14 शिक्षक हैं। इसमें शासकीय उमावि कालापानी, शासकीय उमावि महात्मा गांधी, शासकीय उमावि उबेदिया, शासकीय बालक उमावि नूतन सुभाष, शासकीय उमावि तूम.डा, शासकीय हाईस्कूल आरिफ नगर, शासकीय हाईस्कूल बाग उमरावदुल्हा आदि बैरसिया क्षेत्र के भी तीन स्कूल शामिल हैं। राजधानी के उत्कृष्ट विद्यालय में परीक्षा केंद्र होगा।

भिंड के सबसे ज्यादा शिक्षक शामिल

इस परीक्षा में भिंड के सबसे ज्यादा 505 शिक्षक शामिल होंगे। इसके बाद बैतूल के 231, अलिराजपुर के 182, अशोकनगर के 119 शिक्षक दक्षता मूल्यांकन में शामिल होंगे।

Advertisements