केंद्र को भी पसंद आया MP का “कड़कनाथ” कुक्कुट पालन के लिए तीन करोड़ रुपये स्वीकृत क‍िए

Advertisements

केंद्र शासन ने कड़कनाथ कुक्कुट पालन योजना के तहत प्रदेश के झाबुआ, आलीराजपुर, बड़वानी और धार जिलों के लिए तीन करोड़ रुपये स्वीकृत किए हैं। यह राशि इन जिलों की 20 समितियों के 300 सदस्यों को दी जाएगी। प्रत्येक हितग्राही को 28 दिन के निशुल्क वैक्सीनेटेड 100 चूजे, दवा, दाना, दाना-पानी बर्तन और प्रशिक्षण दिया जाएगा।

हितग्राहियों के निवास पर शासन द्वारा शेड भी निर्मित किया जाएगा। प्रबंध संचालक कुक्कुट विकास निगम एचबीएस भदौरिया ने बताया कि रोग प्रतिरोधक क्षमता और पौष्टिक गुणों के कारण कड़कनाथ की मांग तेजी से बढ़ी है। हितग्राहियों की आय बढ़ाने के साथ ही मांग की आपूर्ति के लिए केंद्र की मदद से यह योजना प्रारंभ की गई है। राज्य पशुधन एवं कुक्कुट विकास निगम संबंधित जिलों के उप संचालकों के माध्यम से सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित करेगा।

इसे भी पढ़ें-  कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए सरकार की नई गाइडलाइंस, होम आइसोलेशन से लेकर दवा तक, जानें सबकुछ

प्रत्येक कुक्कुट पालक को चूजों की सुरक्षा और उन्हें उचित तापमान उपलब्ध कराने के लिए रेडीमेड शेड प्रदान किए जाएंगे। शुरू में चूजे झाबुआ और इंदौर के कुक्कुट प्रक्षेत्र से दिए जाएंगे। वर्ष में दो बार छह माह के अंतराल से 50-50 चूजे हितग्राही को मिलेंगे। वैक्सीनेटेड 28 दिन के चूजों का वजन 125 ग्राम से 150 ग्राम के बीच होगा। कड़कनाथ का विक्रय पशुधन एवं कुक्कुट विकास निगम के पार्लरों से भी किया जाएगा

Advertisements