SC के कॉलेजियम ने आंध्र प्रदेश के CJ के ट्रांसफर सिफारिश की, CM ने लिखी थी चिट्टी

Advertisements

सु्प्रीम कोर्ट के कॉलेजियम ने आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के चीफ जस्टिस का ट्रांसफर करने की सिफारिश की है. मंगलवार को चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया एसए बोबडे की अगुवाई वाले कॉलेजियम ने आंध्र प्रदेश के हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस जेके माहेश्वरी को सिक्किम हाई कोर्ट भेजने की सिफारिश की है.
वहीं कॉलेजियम ने सिक्किम हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस एके गोस्वामी को आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट का चीफ जस्टिस बनाने के लिए सिफारिश की है.

सु्प्रीम कोर्ट के कॉलेजियम की तरफ से आंध्र प्रदेश के चीफ जस्टिस के ट्रांसफर की सिफारिश करना काफी हैरान करने वाला है. दरअसल एक ओर जहां आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट ने सोशल मीडिया पोस्ट को लेकर न्यायपालिका की अवमानना के मामले में जांच के आदेश दिए, तो वहीं हाई कोर्ट को लेकर मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी चीफ जस्टिस एसए बोबडे को एक चिट्टी लिख चुके हैं.

इसे भी पढ़ें-  जानवरों से नहीं, सिर्फ इंसान से इंसान में फैलता है कोरोना वायरस, टीका लगाने के बाद शरीर में दर्द या बुखार आना जरूरी नहीं

न्यायमूर्ति एनवी रमना की अध्यक्षता वाली सुप्रीम कोर्ट की पीठ ने सांसद और पूर्व सांसदों और विधायकों के खिलाफ लंबित आपराधिक मामलों में तेजी लाने के लिए एक आदेश पारित किया था. आदेश पारित होने के बाद आंध्र प्रदेश पुलिस ने जमीन खरीदने के एक मामले में न्यायमूर्ति रमना की बेटियों और पूर्व महाधिवक्ता के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी.

हालांकि बाद में आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट ने एफआईआर पर रोक का आदेश दिया था. इसके बाद मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी ने चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया को एक चिट्टी लिखी और एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करके सुप्रीम कोर्ट के जज और आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस पर हमला किया. मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी के खिलाफ आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में दो दर्जन से अधिक आपराधिक मामले लंबित हैं.

इसे भी पढ़ें-  Phizer: दवा कंपनी फाइजर को बड़ी सफलता, कनाडा ने दी बच्चों को वैक्सीन लगाने की अनुमति

इसके अलावा कॉलेजियम ने तेलंगाना हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस आरएस चौहान को उत्तराखंड हाई कोर्ट में ट्रांसफर करने का फैसला किया है. वहीं दिल्ली हाई कोर्ट की चीफ जस्टिस हिमा कोहली को आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट का चीफ जस्टिस बनाने की सिफारिश की है.

साथ ही कॉलेजियम ने पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट में जज एस मुरलीधर की नियुक्ति ओडिशा हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस के तौर पर करने की सिफारिश की है. वहीं ओडिशा हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस मोहम्मद रफीक का मध्य प्रदेश हाई कोर्ट में ट्रांसफर कर दिया गया है. इसके अलावा कॉलेजियम ने जस्टिस संजीब बनर्जी की नियुक्ति मद्रास हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस के तौर पर किए जाने की सिफारिश की है.

Advertisements