इंदौर में ड्रग्स: रिया, मम्मी और म्याऊं-म्याऊं थे स्मगलर के कोडवर्ड, पार्टियों में लड़कियों की सप्लाई

Advertisements
इंदौर। ड्रग्स केस में पुलिस रसूखदारों तक पहुंच गई है। सोमवार रात फाइनेंसर हरीश अरोरा के मॉडल बेटे निखिल सहित छह लोगों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपितों ने पूछताछ में कोयला कारोबारी सहित कई लड़कियों के नाम कुबूले हैं। पब, फॉर्म हाउस और फ्लैट में होने वाली पार्टियों में कोकीन और एमडीएमए को ‘रिया, मम्मी, म्याऊं-म्याऊं’ जैसे कोडवर्ड से मंगवाते थे। पार्टी में रक्षा, साजिया, दीक्षा, पूनम सहित कई लड़कियां शामिल होती थीं।
एएसपी (पूर्वी) राजेश रघुवंशी के मुताबिक, आरोपित निखिल पुत्र हरीश अरोरा निवासी विष्णुपुरी, जैद पुत्र सलीम खिलजी निवासी ब्रुकबांड कॉलोनी, तुषार पुत्र जय आहुजा निवासी साधुनगर, राहुल पुत्र राजेश पथरोड़ निवासी सेंधवा, जितेंद्र पुत्र कैलाश कोली निवासी सेंधवा और राज उर्फ मुन्नो पुत्र रामप्रसाद प्रजापत निवासी रामकृष्ण बाग कॉलोनी को गिरफ्तार किया गया है।
आरोपितों के संबंध प्रीति उर्फ आंटी, सोहन उर्फ जोजो और कपिल पाटनी से हैं। जैद का मार्बल का व्यवसाय है। वह आंटी के बेटे यश से ड्रग्स लेकर पार्टियां आयोजित करता है। इसमें भंवरकुआं, साकेत नगर, मनीषपुरी, पलासिया, रेसकोर्स रोड, इंद्रपुरी, खातीवाला टैंक, विष्णुपुरी के रईसजादे शामिल होते थे। साथ में लड़कियां भी आती थीं। एएसपी के मुताबिक, जैद खुद को प्रॉपर्टी व्यवसायी बता रहा है, जबकि निखिल का फाइनेंस और तुषार की कपड़े की दुकान है।
इन पर पुलिस ने ड्रग्स सप्लाई, खरीदी और दुष्प्रेरण का आरोप लगाया है। उधर, पुलिस को यह भी जानकारी मिली है कि भंवरकुआं क्षेत्र का यश कोरियर से ड्रग्स मंगवाता था।
विजय नगर टीआइ तहजीब काजी के मुताबिक, आरोपित राज प्रजापत पहले सागर जैन उर्फ सैंडो से जुड़ा था। उसके साथ रूस और थाइलैंड की लड़कियां सप्लाई करता था। उससे अनबन होने पर कपिल पाटनी के साथ मिलकर ड्रग्स बेचने लगा। बाद में कपिल से भी विवाद हो गया और खुद ही एमडीएमए, एलएसडी और कोकीन की सप्लाई शुरू कर दी।
Advertisements

इसे भी पढ़ें-  जानवरों से नहीं, सिर्फ इंसान से इंसान में फैलता है कोरोना वायरस, टीका लगाने के बाद शरीर में दर्द या बुखार आना जरूरी नहीं