कटनी: कार से टकराई उदना-जयनगर स्पेशल ट्रेन, आवागमन के लिए अवरूद्ध, लमतरा रेल फाटक पर देररात दुर्घटना

Advertisements

कटनी। उदना से जयनगर के बीच कटनी जंक्शन होकर चलने वाली विशेष ट्रेन कल रात कटनी-सतना रेलखंड के लमतरा रेल फाटक पर कार से टकरा गई।

कोई हताहत नहीं, कार व रेल इंजन के सामने का हिस्सा क्षतिग्रस्त

इस दुर्घटना में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है लेकिन कार बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। वहीं दुर्घटना की वजह रेलखंड पर लगभग एक घंटे बाधित रहा। इस संबंध में रेलसूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक रविवार व सोमवार की दरम्यानीरात लगभग 12 बजे ग्रे रंग की कार सवार कुछ लोग ओवर ब्रिज बनने बाद कटनी-सतना रेलखंड के आवागमन के लिए बंद लमतरा रेल फाटक से अपनी कार निकालने का प्रयास करने लगे। इसीदौरान कटनी से रवाना होकर गाड़ी संख्या 02564 उदना-जयनगर विशेष ट्रेन नजदीक आती दिखी।

इसे भी पढ़ें-  Transfer in Madhya Pradesh: उपचुनाव के बाद दमोह कलेक्टर तरुण राठी और एसपी चौहान को हटाया

जिसके कारण कार सवार सभी लोग कार छोड़कर भाग गए और रेलट्रैक के बीच में फंसी कार ट्रेन के इंजन से टकरा कर उछल कर दूर जा गिरी। परिणाम स्वरूप कार बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई और ट्रेन के इंजन के सामने का हिस्सा भी क्षतिग्रस्त हो गया।

दुर्घटना के बाद रेलखंड पर ट्रेनों का आवागमन अवरूद्ध कर दिया गया और सूचना मिलते ही रेलवे के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए। क्रेन की मदद से कार को उठाकर रेलट्रैक के किनारे किया गया और कुछ सुधारकार्य के बाद रेलट्रैक पर रेल यातायात बहाल किया गया।

एक घंटे प्रभावित रहा रेलखंड
एक जानकारी में रेल अधिकारियों ने बताया कि दुर्घटना की वजह से लगभग एक घंटे तक कटनी-सतना रेलखंड पर रेल यातायात बाधित रहा। इस दौरान इस रेलखंड से गुजरने वाली गाड़ी संख्या 02519 लोकमान्य तिलक टर्मिनस-कामाख्या एक्सप्रेस व 01072 बनारस-लोकमान्य तिलक टर्मिनस कामायनी एक्सप्रेस को बीच के स्टेशनों पर रोक कर रखा गया और सुधार कार्य के बाद ही ट्रेनों को रवाना किया गया।

इसे भी पढ़ें-  5G Testing: जानिए भारत में 5 जी टेस्टिंग के दौरान पैदा हो रही वेब से कोरोना फैलने का पूरा सच

आरपीएफ को कार मालिक की तलाश

उधर आरपीएफ थाना प्रभारी का कहना है कि ग्रे रंग की कार में आगें-पीछे नंबर नहीं है। कार के चेचिस व इंजन नंबर से उसके मालिक का पता लगाया जा रहा है। कार मालिक का पता लगाने आरटीओ की मदद ली जा रही है। कार मालिक की जानकारी लगने के बाद दुर्घटना के दौरान कार में सवार लोगों को रेल अधिनियम के तहत कार्रवाई की जाएगी।

Advertisements