College Reopen in MP: मध्य प्रदेश में फिर बिना तैयारी उच्च शिक्षा मंत्री ने कर दी कॉलेजों को खोले जाने की घोषणा

Advertisements

College Reopen in MP। उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव ने एक बार फिर प्रदेश के सरकारी और प्राइवेट कॉलेजों को खोले जाने की घोषणा की है। जबकि कॉलेजों में इसकी कोई तैयारियां ही नहीं है। इस संबंध में मंत्री ने कॉलेजों या विभाग को कोई निर्देश भी नहीं दिए हैं। इसके पहले भी मंत्री ने 1 दिसंबर से कॉलेज खोलने की घोषणा की थी, लेकिन तैयारियां नहीं होने के कारण कॉलेज खोले नहीं जा सके थे।

दरअसल बुधवार को उच्च शिक्षा मंत्री यादव ने घोषणा की है कि 15 दिसंबर से प्रदेश के सभी सरकारी और प्राइवेट कॉलेजों में नियमित कक्षाएं आयोजित की जाने लगेंगी। इसमें स्नातक और स्नातकोत्तर की कक्षाएं शुरू हो जाएंगी। कोरोना के संक्रमण के कारण मार्च से कॉलेज बंद थे।

इसे भी पढ़ें-  मई और जून के दौरान 80 करोड़ लाभार्थियों को मिलेगा मुफ्त अनाज, योजना को सरकार की मंजूरी

इसके बाद सितंबर से ऑनलाइन कक्षाएं शुरू की गई थी। मंत्री ने यह भी घोषणा की है कि 1 जनवरी से विज्ञान विषय के प्रैक्टिकल भी होने लगेंगे। लेकिन विभागीय अधिकारियों का कहना है कि उन्हें कॉलेज खोले जाने के संबंध में अब तक कोई आदेश नहीं मिले हैं। आदेश मिलने के बाद वे कॉलेज खोलने की नई गाइडलाइन जारी करेंगे। इस मामले में उच्च शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव अनुपम राजन ने मंत्री की घोषणा पर कोई भी टिप्पणी करने से मना कर दिया। वहीं मंत्री यादव का कहना है कि कॉलेज खोलने के लिए आदेश भेजे जा रहे हैं।

इसे भी पढ़ें-  मई और जून के दौरान 80 करोड़ लाभार्थियों को मिलेगा मुफ्त अनाज, योजना को सरकार की मंजूरी

कॉलेज संचालकों ने भी की है मांग

प्राइवेट कॉलेज संचालकों ने भी सरकार से कॉलेज खोलने के बारे में मांग की है। उनका कहना है कि पिछले करीब आठ महीने से कॉलेज बंद होने के बावजूद वे वेतन अपने स्टाफ दे रहे थे। जबकि इस दौरान विद्यार्थियों ने फीस भी जमा नहीं की है। लेकिन अब यदि कॉलेज नहीं खोले जाते हैं तो वे स्टाफ को आगे का वेतन नहीं दे पाएंगे

Advertisements