नाराज सीएम बोले- प्रशिक्षण प्राप्त DSP को निलंबित कर दो JABALPUR NEWS

Advertisements

भोपाल। जिले सहित प्रदेश के अन्य जिलों में कानून व्यवस्था से लेकर सीएम हेल्पलाइन और समाधान एक दिवस के लंबित मामलों की समीक्षा बुधवार की सुबह से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वीडियो कांफ्रेंस के जरिए की ।जबलपुर की बारी आने पर सीएम ने समाधान एक दिवस में लंबित वाहन चोरी की घटना को लेकर सवाल खड़े कर दिए। एसपी से पूछा गया की आखिर सीएम हेल्पलाइन के बाद यह शिकायत समाधान में कैसे पहुंच गई और सीएम हेल्पलाइन में उसको क्लोज कैसे किया गया। इस मामले में प्रशिक्षण प्राप्त डीएसपी को एल 3 लेवल पर तैनात कर दिया गया था। लेकिन नियम कहता है कि एल 3 लेवल पर डीआइजी स्तर का अधिकारी होना चाहिए।

इसे भी पढ़ें-  मई और जून के दौरान 80 करोड़ लाभार्थियों को मिलेगा मुफ्त अनाज, योजना को सरकार की मंजूरी

इस बात को गंभीरता से लेते हुए वीडियो कांफ्रेंस में ही बोल दिया की डीएसपी को निलंबित कर दिया जाए। लेकिन वीसी के साथ बैठे अधिकारी राजेश राजौरा ने उन्हें बताया वर्तमान में आइपीएस प्रशिक्षण प्राप्त है और जिले की व्यवस्था के अनुसार उनकी जगह जिम्मेदारी सौंपी गई थी इसलिए निलंबन की जगह नोटिस दिया जा सकता है। तब सीएम ने शो कॉज नोटिस देने का निर्देश दिया।

यह है मामला:

कुछ दिन पहले रागिनी कोरी की मोपेड चोरी हो गई थी। चोरी होने के तत्काल बाद रागिनी और उसके स्वजन पुलिस थाने पहुंचे थे और उसके बाद पुलिस कंट्रोल रूम भी गए। ताकि उनके वाहन की तलाश की वीडियो फुटेज मिल सके। लेकिन बीच में सीएम हेल्पलाइन में शिकायत होने के बाद पुलिस और डीएसपी द्वारा आवेदक को यह कहा गया कि उनकी शिकायत को दूर कर लिया जाएगा लेकिन वह संतुष्टि कारक जवाब लिखित में दे दें लेकिन अभी तक ऐसा नहीं किया गया और उसके बाद समाधान एक दिवस का भी सहारा लिया। तब जाकर पुलिस सक्रिय हुई और कई थानों में वाहन की खोजबीन की गई फिलहाल वाहन मिल चुका है। लेकिन पूर्व में की गई शिकायत पुलिस अधिकारियों के गले की फांस बन गई।

Advertisements