Open Board Exam: राज्य ओपन बोर्ड की परीक्षा में हजार विद्यार्थी होंगे शामिल

MP Open Board Exam। कोरोना संक्रमण के प्रकोप के बीच मध्य प्रदेश राज्य (मुक्त) स्कूल शिक्षा बोर्ड यानी राज्य ओपन स्कूल की कई परीक्षाएं 14 दिसंबर से शुरू होने वाली है। इसमें दसवीं व बारहवीं की परीक्षा, ‘रुक जाना नहीं’ योजना के दूसरे चरण की परीक्षा के साथ-साथ पांचवीं व आठवीं के प्रायवेट विद्यार्थियों की परीक्षा भी होगी।

इन परीक्षाओं के लिए प्रदेशभर में 248 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। इन केंद्रों पर कुल 81 हजार 43 विद्यार्थी विभिन्‍न परीक्षाओं में शामिल होंगे। हालांकि कोरोना काल के बीच पांचवीं व आठवीं के प्रायवेट बच्चों की परीक्षा लेना खतरनाक साबित हो सकता है। कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव के कारण इस सत्र में पहली से आठवीं तक के स्कूल नहीं खोले जा रहे हैं, लेकिन प्रायवेट विद्यार्थियों की परीक्षा ली जा रही है।

इसमें प्रदेश से 700 विद्यार्थी शामिल होंगे। वहीं शासन ने पांचवीं व आठवीं के नियमित विद्यार्थियों की इस साल बोर्ड परीक्षा नहीं कराने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा ‘रुक जाना नहीं’ योजना के दूसरे चरण में दसवीं के 29 हजार 851 एवं बारहवीं के 37 हजार 77 विद्यार्थी परीक्षा में शामिल होंगे। साथ ही इस परीक्षा में मदरसा बोर्ड, सीबीएसई के विद्यार्थी भी शामिल होंगे।

दो शिफ्ट में होगी परीक्षा

दसवीं कक्षा के विद्यार्थियों का पहला पेपर तृतीय भाषा उर्दू, संस्कृत एवं मराठी भाषा का रहेगा। इनकी परीक्षा 22 दिसंबर तक चलेगी। परीक्षा का समय सुबह 8 बजे से 11 बजे तक होगा। वहीं बारहवीं के विद्यार्थियों का पहला पेपर भूगोल का होगा। यह परीक्षा 29 दिसंबर तक चलेगी। इनके परीक्षा का समय दोपहर 2 बजे से शाम 5 बजे तक रहेगा।

परीक्षा केंद्रों की संख्या कम होने से होगी परेशानी

 

राज्य ओपन स्‍कूल शिक्षा बोर्ड की सभी परीक्षाओं के लिए 248 परीक्षा केंद्रों पर करीब 81 हजार विद्यार्थी शामिल होंगे। कोविड-19 के कारण विद्यार्थियों को दो गज की दूरी पर बैठना जरूरी है। ऐसे में अगर विद्यार्थियों के लिए दो गज की दूरी रखते हैं और किसी भी स्कूल 10 कमरे हैं, तो भी ज्यादा से ज्यादा 200 विद्यार्थी बैठ सकेंगे। वहीं राज्य ओपन स्कूल के अधिकारियों का कहना है कि परीक्षा केंद्रों पर कोरोना संक्रमण से बचाव के पूरे इंतजाम किए जाएंगे।