सहायक उपकरण हेतु 131 दिव्यांग बच्चों का चिन्हांकन

जबलपुर, आशीष शुक्ला। राज्य शिक्षा केन्द्र के निर्देशानुसार दिव्यांग बच्चों के चिकित्सकीय मूल्यांकन एवं उपकरण चिन्हांकन शिविर का आयोजन जिले के प्रत्येक विकासखण्ड में किया जा रहा है।

जिसमें जिला मेडीकल बोर्ड उपस्थित होकर शिविर स्थल पर ही विकलांगता प्रमाण-पत्र जारी कर रहे हैं एवं एलिम्को टीम द्वारा सहायक उपकरण हेतु बच्चों का चिन्हांकन शिविर स्थल पर किया जा रहा है।
अभी तक जबलपुर शहर, जबलपुर ग्रामीण एवं पनागर में शिविरों का आयोजन किया जा चुका हैं।

इन शिविरों में कुल 417 दिव्यांग बच्चों का पंजीयन किया गया। इसमें से 131 बच्चों का सहायक उपकरण हेतु चिन्हांकन किया गया है* शिविरों में जिला परियोजना समन्वयक डॉ. आर.पी. चतुर्वेदी विकासखण्डों के विकासखण्ड स्त्रोत समन्वयक आर.के. उपाध्याय, डी.के. श्रीवास्तव, ठाकुर प्रसाद पटेल तथा सहायक परियोजना समन्वयक तरूण राज दुबे, घनश्याम बर्मन उपस्थित रहे।

शिविरों में मेडीकल बोर्ड के डॉ. शोभा अग्रवाल इ.एन.टी., डॉ. स्वाति मुखर्जी मनोचिकित्सक, डॉ. सुलभ अग्रवाल नेत्र विशेषज्ञ, डॉ. एस.एस.ठाकुर, अस्थि विशेषज्ञ, डॉ. एच.पी. सिंह अस्थि विशेषज्ञ, डॉ. श्रीमती प्रियंका परोहा मनौवैज्ञानिक विशेषज्ञ, श्री चंदेल नेत्र सहायक, डॉ. अनिल सोंधिया टेक्नीशियन, डॉ. रिजवी टेक्नीशियन, डॉ. श्रीमती कुलकर्णी ऑडियो लोजिस्ट ने दिव्यांग बच्चों का मूल्यांकन किया और विकलांगता प्रमाण पत्र जारी कििये।