जबलपुर कलेक्टर की अभिनव पहल “केयर बाय” से फिर मिला नया जीवन

Advertisements

जबलपुर। हेलो सर मैं छोटू बर्मन सतना निवासी बोल रहा हूं मेरा भाई अशोक मैहर से सतना रहा था रास्ते में एक्सीडेंट हो गया सतना हॉस्पिटल ले गए वहां से मेडिकल कॉलेज जबलपुर के लिए मेरे भाई को रिफर किया है, मैं अभी रात 1:00 बजे जबलपुर लेकर आ गया हूं पर यहां पर कोई एडमिट नहीं कर रहा है।

ये खबर सुनते ही कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने मेडिकल कॉलेज के न्यूरो सर्जन डा केतन से फोन पर बात की और मेडिकल कॉलेज के न्यूरोसर्जरी ICU में वेंटिलेटर पर रखकर इलाज शुरू किया गया।

आज उसके भाई ने केयर बाय कलेक्टर पर फोन कर कर उसकी सलामती की जानकारी दी और जिला प्रशासन का ह्रदय से आभार व्यक्त किया।

विस्तृत जानकारी के अनुसार कल दिनांक 03.12.2020 को अंकित बर्मन पिता अशोक बर्मन उम्र 20 वर्ष निवासी मैहर जिला सतना का मैहर के पास समय करीबन दोपहर 3:30 बजे एक्सीडेंट हो गया था जिससे अंकित बर्मन को सिर पर गंभीर चोटें आई, दुर्घटना के बाद अंकित को उचेहरा स्वास्थ्य केंद्र से सतना सिविल अस्पताल में भेजा गया । किंतु अंकित की स्थिति नाजुक होने के कारण उसे सतना से जबलपुर के लिए रात्रि 12:30 बजे रेफर कर दिया गया, जिसके बाद एक अज्ञात फोन से 7587970500 केयर बाय कलेक्टर में अंकित की गंभीर स्थिति एवं जबलपुर में तत्काल इलाज शुरू कराने हेतु कलेक्टर जबलपुर कर्मवीर शर्मा को सूचित किया गया।

जिसके बाद कलेक्टर श्री शर्मा द्वारा स्वयं अंकित के छोटे भाई छोटू से बात कर उसकी स्थिति को समझते हुए तुरंत मेडिकल कॉलेज के न्यूरोसर्जन डॉक्टर केतन से बात की व मरीज अंकित बर्मन को जबलपुर पहुंचते ही तत्काल मेडिकल कॉलेज के न्यूरोसर्जरी ICU में एडमिट करवाया गया जिसके बाद अंकित का उपचार मेडिकल कॉलेज के न्यूरोसर्जरी ICU में वेंटिलेटर पर शुरू कर दिया गया तथा रात्रि लगभग 3:30 बजे डॉ केतन द्वारा कलेक्टर श्री शर्मा को अंकित की वर्तमान स्थिति व उसकी सलामती की जानकारी फोन पर दी गई।

Advertisements