ब्रिटेन में इमर्जेंसी इस्तेमाल के लिए Pfizer-BioNTech की Coronavirus Vaccine को मंजूरी

ब्रिटेन पहला ऐसे पश्चिमी देश है जिसने कोविड-19 के लिए किसी वैक्सीन को लाइसेंस दिया है। इसके साथ ही ऐसे लोगों को Pfizer/BioNTech की वैक्सीन दी जाएगी जिन्हें इन्फेक्शन का ज्यादा खतरा है। वैक्सीन को मेडिसिन्स ऐंड हेल्थकेयर प्रॉडक्ट्स रेग्युलेटरी अथॉरिटी (MHRA) ने इसकी इजाजत दे दी है। MHRA को विशेष नियमों के तहत 1 जनवरी से पहले वैक्सीन को अप्रूवल देने का अधिकार दिया गया था।

ब्रिटेन ने खरीदीं 4 करोड़ खुराकें
Pfizer की वैक्सीन आखिरी ट्रायल में 95% असरदार पाई गई थी। कंपनी ने बताया है कि वैक्सीन की पहली खुराकें आने वाले दिनों में पहुंचा दी जाएंगी। ब्रिटेन ने 4 करोड़ खुराकें खरीदी हैं। कंपनी के चेयरमैन अल्बर्ट बोर्ला ने कहा है, ‘आज ब्रिटेन में इमर्जेंसी इस्तेमाल के लिए इजाजत पहनना कोविड के खिलाफ लड़ाई में ऐतिहासिक मौका है।’

mRNA आधारित वैक्सीन
Moderna की वैक्सीन भी उसी mRNA तकनीक पर आधारित है जिस पर Pfizer की वैक्सीन। कंपनी ने दावा किया है कि आखिरी चरण के शुरुआती डेटा में उसकी वैक्सीन 94.5% असरदार पाई गई है। युवाओं के साथ-साथ ज्यादा उम्र के लोगों में Moderna की वैक्सीन ने ऐंटीबॉडी पैद की जिसने वायरस के खिलाफ ऐक्शन किया।