शहर की सफाई व्यवस्था में सुधार लाने निगमायुक्त ने दी तीन दिन की मोहलत

Advertisements

नगरीय क्षेत्रों में कहीं भी पन्नी, पॉलीथिन और पाउच दिखाई न दें-निगमायुक्त श्री अनूप कुमार

आज दमोहनाका बस स्टैंड परिसर की निरीक्षण के दौरान अनेक दुकानदारों पर लगाया जुर्माना*

छोटे दुकानदारों से 1-1 हजार और बड़े व्यवसायियों से 20-20 हजार की वसूली

बारात घर और शराब दुकान पर भी ठोका दस दस हजार रुपये का जुर्माना

शहर की सूरत बिगाड़ने वालों की अब खैर नहीं-निगमायुक्त

नगर के नागरिकों से स्वच्छता अभियान में सहयोग करने निगमायुक्त की अपील

निगमायुक्त ने शहर के रैनबसेरों और शौचालयों का भी ताबड़तोड़ किया निरीक्षण

रैनबसेरों की भी व्यवस्था को दुरुस्त रखने संबंधित अधिकारियों को दी हिदायत

जबलपुर। शहर की सूरत बिगाड़ने वालों की अब खैर नहीं है। आज सफाई व्यवस्था की निरीक्षण के दौरान निगमायुक्त श्री अनूप कुमार सिंह ने अपने स्वास्थ्य अमले को फटकारते हुए निर्देशित किया कि जिनके द्वारा सफाई कराने के बाद गंदगी फैलाई जाती है अथवा इधर उधर कचरे को फैका जाता है उसके खिलाफ 10 हजार रूपये का जुर्माना लगाने की कार्रवाई करें अन्यथा आप सभी कार्रवाई के लिए तैयार रहें। उन्होंने संभाग क्रमांक 6 दमोहनाका, एवं 14 विजय नगर क्षेत्रों को निरीक्षण के दौरान उक्त निर्देश प्रदान किये। निगमायुक्त श्री अनूप कुमार ने दमोहनाका कार्यालय के सामने परिसर की स्वयं खड़े होकर सफाई कराई और इस दौरान अनेक दुकानदारों पर 1 हजार से लेकर 20 हजार रूपये तक जुर्माना लगाकर वसूली की। उन्होंने कार्रवाई के दौरान बारातघर, होटल्स, एवं शराब दुकानों के खिलाफ 10-10 हजार रूपये का चालान सी.एस.आई. के माध्यम से कटवाया।
निगमायुक्त ने शहर की सफाई व्यवस्था में सुधार लाने सभी संभाग क्रमांक 1 से 16 तक में मुख्य स्वच्छता निरीक्षकों एवं वार्ड सुपरवाईजरों को तीन दिन की मोहलत दी। उन्होंने नगरीय क्षेत्रों में कहीं भी पन्नी, पॉलीथिन पाउच दिखाई न दें की भी चेतावीन दी और अभियान चलाकर अपने अपने क्षेत्रों में सफाई व्यवस्था को दुरूस्थ रखने सीधे तौर पर संभागीय अधिकारियो एवं मुख्य स्वच्छता निरीक्षकों को निर्देश दिये। सफाई व्यवस्था की निरीक्षण के बाद निगमायुक्त श्री अनूप कुमार ने दमोह नाका स्थित रैन बसेरा, सार्वजनिक शौचालयों का भी निरीक्षण किया और रैन बसेरा में अव्यवस्था को देखकर अप्रशन्नता जाहिर की और विभाग के संबंधित लोगों को निर्देशित किया कि सभी रैन बसेरों एवं आश्रय स्थलों को व्यवस्थित करें और सभी सुविधाएॅं बेहतर की जावे। निरीक्षण के मौके पर स्वास्थ्य एवं स्वच्छता से संबंधित सभी अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे।

Advertisements