बड़ी वारदात: अनूपपुर के जैतहरी में भाई ने अपने सगे भाई-भाभी और भतीजे को जिंदा जलाने के बाद फांसी लगाई, 4 की मौत

Advertisements

अनूपपुर। भाई ही भाई के न रहा कलयुग में यह कहावत चरितार्थ हुई अनूपपुर  जिले के जैतहरी विकासखंड अंतर्गत ग्राम धनगवां में।  यहां एक बड़ी घटना सामने आई है जिसमें दीपक नामक युवक ने पारिवारिक विवाद के कारण बीती रात करीब 1:30 से 2:00 के बीच अपने ही सगे भाई-भाभी और दो बच्चों को पेट्रोल डालकर जिंदा जला दिया है और उसके बाद वह खुद भी फांसी के फंदे पर झूल कर खुदकुशी कर ली है।

घटना के संदर्भ में बताया गया कि आरोपी मृतक दीपक विश्वकर्मा का अपने भाई से विवाद था, आए दिन इस झगड़े से वह मानसिक रूप से काफी परेशान था,बीती रात करीब 1:30 बजे के आसपास जब उसका भाई- भाभी ,भतीजी और भतीजा सब सो रहे थे,

इसे भी पढ़ें-  Roche कोरोना जंग में मिली ताकत: रोशे की एंटीबॉडी दवा के इमरजेंसी इस्तेमाल को भारत में मंजूरी

Anuppur

 

उसी दौरान उसने उन सब को आग के हवाले कर दिया भाई ओंकार विश्वकर्मा उम्र 35 साल,भाभी कस्तूरिया विश्वकर्मा तथा 17 साल की भतीजी और एक 5 साल का भतीजा था, जिसमें से 3 की मौके पर मौत हो गई और एक की हालत गंभीर बताई जा रही है ,जिसे जैतहरी से अनूपपुर और फिर शहडोल रेफर कर दिया गया है। घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंच गई और उसने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

Advertisements