मध्य प्रदेश में अब 10 वीं 12 वीं में नहीं आएगी सप्लीमेंट्री, जनिये सरकार के इस आदेश को

Advertisements

भोपालः मध्य प्रदेश स्कूल शिक्षा विभाग ने एक बड़ा फैसला लिया है. स्कूल शिक्षा विभाग ने प्रदेश में 10वीं 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं में सप्लीमेंट्री परीक्षा का प्रावधान खत्म कर दिया है. अब स्टूडेंटों की मार्कशीट पर सप्लीमेंट्री नहीं लिखा जाएगा.

 

सप्लीमेंट्री आने पर मिलेगा दूसरा मौका 
स्कूल शिक्षा विभाग ने नियमों में बदलाव करते बताया कि अब अगर किसी छात्र को सप्लीमेंट्री आती है तो उसे परीक्षा देने के लिए दूसरा मौका दिया जाएगा. यानि छात्र दोबारा से उसी विषय की परीक्षा फीस जमा करके वह पेपर फिर से दे सकेगा. इससे पहले दसवीं और बारहवीं की बोर्ड परीक्षाओं में एक विषय में सप्लीमेंट्री परीक्षा देने का प्रावधान था. जिसे अब खत्म कर दिया गया है.

मार्कशीट पर फेल विषय में नहीं बनाया जाएगा स्टार 
खास बात यह है कि अगर कोई छात्र किसी विषय में फेल होता है तो उसकी मार्कशीट पर स्टार भी अंकित नहीं किया जाएगा. जबकि अब एक से अधिक विषयों में कम नंबर आने पर उसे दोबारा से पेपर देने का मौका मिलेगा. मुख्य परीक्षा के तीन महीने बाद ही छात्रों को दोबारा से  दूसरी परीक्षा देने का मौका मिलेगा. अगर वह पास हो जाता है तो उसकी मार्कशीट पूरे विषयों के नंबर के साथ बनाई जाएगी.

 

मार्कशीट पर ज्यादा नंबर वाले अंक होंगे दर्ज 
अब तक यह प्रावधान था कि सप्लीमेंट्री परीक्षा के अंक मार्कशीट पर अलग होते थे. लेकिन अब दोबार परीक्षा देने का प्रावधान लाए जाने के बाद जिस परीक्षा में ज्यादा अंक आएंगे, उन्हें ही मार्कशीट पर दर्ज किया जाएगा.

Advertisements