Advertisements

2018 तक पटरी पर दौड़ेने के लिए तैयार होगी देश की पहली स्वदेशी ट्रेन

नई दिल्ली। भारत की पहली स्वदेशी ट्रेन अगले वर्ष दिसंबर तक पटरी पर दौड़ने के लिए तैयार हो जाएगी। रेलवे बोर्ड के एक सदस्य ने गुरुवार को इस आशय की जानकारी दी है।

यह ट्रेन दिल्ली में चलने वाली मेट्रो ट्रेन के जैसी होगी, लेकिन यह बड़े पैमाने पर निर्मित की जाएगी। पटरी पर यह 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौर सकेगी। मेट्रो ट्रेन के विपरीत 16 डिब्बे वाली ये गाड़ियां लंबी दूरी तय करने में सक्षम होंगी।

ट्रेन का सेट दिल्ली मेट्रो रैक के ही जैसा होगा। इसमें कई कोच ऐसे होंगे जो प्रपल्शन सिस्टम से लैस होंगे। इससे लोकोमोटिव की जरूरत खत्म हो जाएगी। रेलवे बोर्ड के सदस्य रविंद्र गुप्ता ने कहा कि शुरू में यह चेयर कार होगा, लेकिन अंत में शयनयान भी इसमें शामिल किया जाएगा।

यह होगी खासियत

– तेज गति से अधिक चक्कर लगाए जा सकेंगे

– सामान्य ट्रेनों की तुलना में ये यात्रियों को उनके गंतव्यों पर जल्द पहुंचाएंगे

– रेलवे में पहली बार इन ट्रेन सेटों में स्वचालित दरवाजे होंगे

– स्वचालित दरवाजे स्टेशनों पर अपने आप खुलेंगे और अपने आप बंद होंगे

– बाकी ट्रेनों के मुकाबले इनमें बड़ी खिड़कियां होंगी

– सभी डिब्बे पूरी तरह वातानुकूलित होंगे और जैव शौचालयों से लैस होंगे