एक्ट्रेस पायल घोष को एक दिन पहले RPI में शामिल कराया आज आठवले हो गए पॉजिटिव

Payal ghosh पायल घोष को एक दिन पहले अपनी पार्टी RPI में शामिल कराने वाले केंद्रीय राज्यमंत्री रामदास अठावले की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसके बाद उन्होंने खुद को होम क्वारैंटाइन कर लिया है। डॉक्टरों के मुताबिक, उनकी स्थिति सामान्य है। इसीलिए फिलहाल उन्हें घर में ही रहने को कहा गया है। वे एक दिन पहले ही वे राजनीतिक कार्यक्रम में ठुड्डी पर मास्क रखकर शामिल हुए थे। उन्होंने अप्रैल में ‘गो कोरोना गो’ कहकर लोगों में महामारी के प्रति जागरुकता फैलाई थी। दावा यह भी था कि यह नारा उन्होंने ही दिया है।

एक्ट्रेस पायल घोष को अपनी पार्टी में शामिल कराया

अठावले ने एक दिन पहले ही एक्ट्रेस पायल घोष को रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (अ) में शामिल कराया था। इस कार्यक्रम में अठावले ने मास्क तो लगाया था, लेकिन उनका नाक मुंह खुले हुए थे। पायल घोष कुछ दिन पहले फिल्म डायरेक्टर अनुराग कश्यप पर रेप का आरोप लगा चुकी हैं।

चीइनीज फूड का भी विरोध किया था
अठावले ने इसी साल जून में चाइनीज फूड को भी विरोध किया था। उन्होंने कहा था, ‘रेस्तरां या रोड साइड बिक रहे चाइनीज खाने को पूरी तरह से बैन कर देना चाहिए। मैं भारत के लोगों से अपील करता हूं कि वे चाइनीज सामानों के साथ-साथ चाइनीज खाने का भी बहिष्कार करें।’ उनके इस रिएक्शन के बाद ट्विटर पर गो कोरोना गो, मंचूरियन गो, गो चाइना गो टैग्स टॉप ट्रेंड करने लगे थे।

महाराष्ट्र में इन नामचीन राजनेताओं को हुआ कोरोना
महाराष्ट्र में राजनीतिक हस्तियों में कोरोना लगातार बढ़ रहा है। सोमवार को डिप्टी सीएम अजित पवार भी कोरोना पॉजिटिव हुए। उनका मुंबई के ब्रीच कैंडी हॉस्पिटल में इलाज चल रहा है। पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस भी संक्रमित हैं और आइसोलेशन में हैं। इनसे पहले सहकारिता मंत्री बाला साहेब पाटिल, मंत्री अशोक चव्हाण, असलम शेख, उदय सावंत, जितेंद्र अह्वाड, धनंजय मुंडे, संजय बंसोड़ और अब्दुल सत्तार संक्रमित हो चुके हैं।

पिछले 24 घंटों में 3645 मरीज मिले

महाराष्ट्र में सोमवार को कोरोना के 3645 नए मामले सामने आए। इसके बाद राज्‍य में कुल संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 16 लाख 48 हजार 665 तक पहुंच चुका है। सोमवार को 84 संक्रमितों की मौत हुई। स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के अनुसार राज्‍य में अब तक इस महामारी के कारण 43 हजार 344 लोगों की मौत हो चुकी हैं जबकि 1 लाख 34 हजार 137 मरीजों का इलाज चल रहा है। 14 लाख 70 हजार 660 मरीज ठीक हो चुके हैं।