India-China Standoff: दशहरे पर चीन बॉर्डर का दौरा करेंगे राजनाथ सिंह, कई प्रोजेक्ट्स का उद्घाटन कर चीन को देंगे मुंहतोड़ जवाब

India-China Standoff:  पूर्वी लद्दाख में कई महीनों से भारत-चीन के बीच सीमा विवाद जारी है। कई बैठकों के बावजूद भी तनावपूर्ण माहौल शांत नहीं हो रहा है। इस बीच, दशहरा के मौके पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भारत-चीन बॉर्डर के पास जा रहे हैं।

राजनाथ सिक्किम का दौरा करेंगे ओर पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के जवानों का सामना कर रहे भारतीय सेना के जवानों के मनोबल को बढ़ाएंगे। इस दौरान, रक्षा मंत्री शस्त्र पूजा भी करेंगे।

रक्षा सूत्रों के अनुसार, राजनाथ सिंह 23-24 अक्टूबर को सिक्किम जाएंगे और वहां पर कई रोड प्रोजेक्ट्स, पुल आदि का उद्घाटन करेंगे। यह सड़कें और पुल आम नागरिकों के अलावा, सेना के जवानों की आवाजाही और उनके हथियारों को सीमा पर पहुंचाने के लिए काफी काम आएंगे।

रक्षा मंत्री के हिंदू परंपरा के अनुसार सिक्किम में चीन की सीमा के पास तैनात स्थानीय इकाइयों में से एक के साथ ‘शस्त्र पूजा’ करने की भी संभावना है। शस्त्र पूजा के दौरान दशहरे में हथियारों की पूजा की जाती है। पिछले साल उन्होंने फ्रांस में भारत के पहले राफेल लड़ाकू विमान को लेते हुए ऐसा किया था।

सिक्किम दौरे पर राजनाथ सिंह

वहीं, सिक्किम दौरे पर राजनाथ सिंह फॉरवर्ड इलाकों का भी दौरा करेंगे, जहां पर भारत के बड़ी संख्या में जवान तैनात हैं। उनके साथ टैंक्स समेत कई हथियार भी हैं, जोकि चीन द्वारा किसी भी घुसपैठ को नाकाम करने के लिए तैनात किए गए हैं।

उल्लेखनीय है कि भारत और चीन इस साल अप्रैल महीने से ही लद्दाख में आमने-सामने की स्थिति में हैं। यह हालात तब और तनावपूर्ण हो गए थे।

 

जब जून के मध्य में गलवान घाटी में दोनों देशों की सेनाओं के बीच में हिंसक टकराव हो गया था। भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे, जबकि चीन के भी कई जवानों की मौत हुई थी। इसके बाद, अगस्त में भी भारत और चीन के जवानों का आमना-सामना हो चुका है। हालांकि, अब भारत चीन के मुकाबले बढ़त हासिल कर चुका है।