EPFO NEWS: उमंग ऐप के जरिए मिलेगी EPF की एक और सुविधा, आसान होगी पेंशन

EPFO Scheme Certificate  या योजना प्रमाण पत्र EPF के ऐसे सदस्यों को जारी किया जाता है, जो अपना EPF अंशदान निकाल लेते हैं लेकिन रिटायरमेंट की उम्र पर पेंशन कर सुविधा का फायदा लेने के लिए EPFO के साथ अपनी मेंबरशिप बनाए रखना चाहते हैं. एक सदस्य सिर्फ तभी पेंशन के लिए पात्र होता है, जब वह कर्मचारी पेंशन योजना, 1995 का कम से कम 10 साल तक सदस्य रहता है.

नई नौकरी ज्वाइन करने के बाद स्कीम सर्टिफिकेट ये सुनिश्चित करता है कि पिछली पेंशन योग्य सर्विस को नए Employer के साथ पेंशन योग्य सर्विस के साथ जोड़ दिया जाए. इससे कर्मचारी का पेंशन का फायदा बढ़ जाता है. इसके अलावा पेंशन के लिए योग्य मैम्बर की मौत की स्थिति में परिवार के सदस्यों के लिए परिवार पेंशन हासिल करने में भी ये स्कीम सर्टिफिकेट काम आता है.

उमंग ऐप के जरिए स्कीम सर्टिफिकेट अप्लाई करना बहुत आसान हो जाएगा. अब इस सर्टिफिकेट के लिए इंप्लाई या परिवार के किसी सदस्य को ईपीएफओ ऑफिस जाने की जरूरत नहीं होगी. खास तौर पर इस इससे महामारी के दौरान कर्मचारियों को इस सुविधा से काफी राहत मिलेगी. कर्मचारियों को अनावश्यक कागजी कार्यवाही भी नहीं करनी होगी।

ईपीएफओ के एक अनुमान के मुताबिक उमेंग ऐप के जरिए दी स्कीम सर्टिफिकेट की सुविधा से करीब 5.89 करोड़ से ज्यादा सदस्यों को फायदा होगा. उमंग ऐप पर सभी सुविधाओं का फायदा लेने के लिए एक्टिव यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (UAN) और ईपीएफओ में रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर होना जरूरी है.

अगस्त, 2019 के बाद उमंग ऐप को मिले 47.3 करोड़ हिट्स में 41.6 करोड़ यानी 88 फीसदी ईपीएफओ सेवाओं के लिए थे. मोबाइल फोन के माध्यम से भारत में डिजिटल कनेक्टिविटी में भारी बढ़ोतरी के साथ ईपीएफओ उमंग ऐप के जरिए दूरदराज के इलाकों में भी अपने सदस्यों को ज्यादा से ज्यादा डिजिटल सेवाएं उपलब्ध करा रहा है.