यहां कोविड अस्पताल में ड्यूटी देने वाला हर चौथा डॉक्टर संक्रमित, यह तथ्य भी है चौंकाने वाला

इंदौर । जिन डॉक्टरों के भरोसे शहर पिछले छह महीने से कोरोना महामारी के खिलाफ जंग लड़ रहा है वे भी अब संक्रमण की चपेट में आने लगे हैं। हालत यह है कि कोविड अस्पताल में ड्यूटी दे रहा हर चौथा डॉक्टर संक्रमित हो चुका है।

शहर में संक्रमित डॉक्टरों की संख्या सवा सौ से ज्यादा पहुंच चुकी है। हालांकि इनमें से ज्यादातर बीमारी पर जीत हासिल कर दोबारा काम पर लौट चुके हैं। बड़ी संख्या में डॉक्टरों के संक्रमित होने के पीछे वायरस के बढ़ते प्रकोप को वजह बताया जा रहा है।

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आइएमए) के इंदौर में 2700 के लगभग सदस्य हैं। इनमें से करीब तीन सौ डॉक्टर कोविड अस्पतालों में ड्यूटी दे रहे हैं जबकि बाकी क्लिनिकों पर ही मरीज देख रहे हैं।

एसोसिएशन के पदाधिकारियों के मुताबिक शहर में अब तक 128 डॉक्टरों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है।

इनमें से करीब 85 डॉक्टर शहर के अलग-अलग कोविड अस्पतालों में ड्यूटी दे रहे थे यानी शहर के कोविड अस्पताल में ड्यूटी दे रहा हर चौथा डॉक्टर संक्रमित हो चुका है। कुछ डॉक्टर अब भी कोरोना से जूझ रहे हैं।

 

यह कारण

-कोविड अस्पताल में संक्रमितों के सतत संपर्क में आने से।

-संक्रमण से बचने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले संसाधनों जैसे पीपीई कीट, सैनिटाइजर आदि की खराब गुणवत्ता होने से।

-कई बार व्यक्ति खुद के संक्रमित होने की जानकारी नहीं देता और सीधे डॉक्टर के संपर्क में आ जाता है।

-कई बार डॉक्टर खुद भी लापरवाही बरतते हैं और बगैर संसाधनों का इस्तेमाल किए बिना ही सीधे मरीज के संपर्क आ जाते हैं।