शरद यादव की बेटी शुभाषिनी राज राव ने थामा कांग्रेस का हाथ, बिहार चुनाव में टिकट पक्का

लोकतांत्रिक जनता दल के प्रमुख शरद यादव की बेटी शुभाषिनी राज राव कांग्रेस में शामिल हो गई हैं। पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता पवन खेड़ा ने उन्हें कांग्रेस में शामिल करवाया। वह बिहार चुनाव में कांग्रेस के उम्मीदवार के तौर पर मैदान में उतरेंगी।

शरद यादव पूर्व में जनता दल यूनाइटेड के प्रमुख रहे हैं, लेकिन नीतीश कुमार के साथ उनकी अनबन हो गई। इसके बाद उन्होंने अपनी पार्टी बना ली। 2019 के लोकसभा चुनाव में शरद यादव की नई पार्टी महागठबंधन का ही हिस्सा थी। बता दें कि, शरद यादव की तबीयत काफी दिनों से खराब चल रही है और वह फिलहाल एम्स में अपना इलाज करवा रहे हैं।
हालांकि, इस बार विधानसभा चुनाव में कांग्रेस, राजद, सीपीआई, सीपीएम महागठबंधन का हिस्सा है। बिहार में कांग्रेस 70 सीटों पर चुनाव लड़ रही है। पार्टी ने फिलहाल कुछ सीटों पर अपने उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है।

बता दें कि, बिहार में तीन चरणों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। इसमें पहले चरण के लिए 28 अक्तूबर को मतदान किए जाएंगे। वहीं, दूसरे चरण के लिए तीन नवंबर और तीसरे चरण के लिए सात नवंबर को मतदान होने वाले हैं। वहीं, नतीजों की घोषणा 10 नवंबर को होगी।

तेजस्वी ने दाखिल किया नामांकन
राजद नेता तेजस्वी यादव ने राघोपुर सीट से अपना नामांकन दाखिल कर दिया है। इससे पहले, पत्रकारों से बातचीत के दौरान तेजस्वी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को चुनौती दी। उन्होंने कहा, वैसे तो हम राघोपुर से नामांकन भरने जा रहे हैं, लेकिन नीतीश जी नालंदा की किसी सीट से नामांकन करें तो वह भी वहां से नामांकन करेंगे।

तेजस्वी ने कहा है कि 2015 में जेडीयू के साथ हमारा गठबंधन था और हमलोगों ने नीतीश को सीएम बनाने के लिए वादा किया था। जो हमने पूरा करके दिखाया और उनको सीएम बना दिए। इस बार हम वादा कर रहे हैं कि अगर महागठबंधन की सरकार बनती है तो पहली कैबिनेट की बैठक में दस लाख युवाओं को रोजगार देंगे ये मेरा वादा है।