बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में दो बाघ शावकों की मौत

उमरिया Bandhavgarh Tiger Reserve। बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के ताला जोन में दो नवजात मादा बाघ शावकों की मौत हो गई है। मरने वाले दोनों शावक बमुश्किल एक सप्ताह के थे।

बताया गया है कि शावकों की आंख भी अभी नहीं खुली थी। इन शावकों के जन्म की जानकारी भी प्रबंधन को इसलिए नहीं लग पाई थी क्योंकि अभी बाघिन इन शावकों को निकालकर सामने नहीं लाई थी। इस बारे में जानकरी देते हुए पार्क प्रबंधन ने बताया कि किसी बड़े बाघ के हमले में यह घटना हुई है। दोनों ही शावकों के शरीर पर चोट के घातक निशान पाए गए हैं।

बताया गया है कि दोनों बाघ शावक शुक्रवार शाम को गोहड़ी बीट के कक्ष क्रमांक 301 में पाए गए थे। इसमें से एक की मौत हो चुकी थी जबकि दूसरा घायल था। घटना के बारे में जानकारी देते हुए बांधवगढ़ के फील्ड डायरेक्टर विंसेंट रहीम ने बताया कि दोनों बाघ शावकों को गश्त के दौरान देखा गया था। गश्त करने वाले कर्मचारियों ने सूचना दी थी कि एक शावक की मौत हो गई है जबकि दूसरा घायल है। इस सूचना के बाद दूसरे घायल शावक पर रात भर नजर रखी गई और सुबह तक उसकी भी मौत हो गई। शनिवार की सुबह शवों का परीक्षण करने के बाद ताला में ही उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया।