Sapna Chaudhary Life Story: आज सुपरस्टार सपना चौधरी ने कभी इस कारण कर चुकी हैं सुसाइड की कोशिश, सुष्मिता को छोड़ने से बदली किस्मत

नई दिल्ली। हरियाणवी डांसर सपना चौधरी आज ​न सिर्फ हरियाणा बल्कि हर जगह मशहूर हैं। सपना आज एक बड़ा नाम हैं। हाल ही में सपना ने अपने फैंस को अचानक ही मां बनने की खबर सुनाकर एक बड़ा सरप्राइज दिया है।

सपना ने हाल ही में एक स्वस्थ्य और सुुंदर बेटे को जन्म दिया है। इसी के साथ ही सपना के पति के नाम का भी खुलासा हो गया। सपना ने सिंगर, कंपोजर, लिरिसिस्ट और हरियाणवी एक्टर वीर साहू से शादी की है। दोनों ने जनवरी में कोर्ट मैरिज की थी।

वीर मूल रूप से हांसी से संबंध रखते हैं। वहीं उन्हें ‘बब्बू मान’ के नाम से जाना जाता है। सपना की शादी और बेटे होने की खबर से उनके फैंस के काफी खुश हैं। वह सोशल मीडिया के जरिए उन्हें ढेरों बधाई दे रहे हैं।

आज सपना चौधरी जिस मुकाम पर हैं वहां तक पहुंचने के लिए उन्होंने बहुत मेहतन की है। उनकी लाइफ में कई उतार चढ़ाव आए। एक वक्त सपना की लाइफ में ऐसा आया जब उन्होंने सुसाइड करने की कोशिश की थी।

आज हम आपको सपना के बारे में कई ऐसी बातें बताने जा रहे हैं जिन्हें शायद ही आप जानते होंगे। तो चलिए जानते हैं उनके बारे में…

ये है असली नाम

पूरी दुनिया के सपना चौधरी के नाम के मशहूर डांसर का असली नाम सुष्मिता है। ये बात कम लोग ही जानते हैं कि सपना को बचपन से सुष्मिता कहकर पुकारा जाता था। उन्हें ये नाम उनकी चाची ने दिया था। दरअसल, उनकी चाची एक्ट्रसे सुष्मिता सेन की बड़ी फैन थीं इसी वजह से उन्होंने ये नाम सपना को दिया था। लेकिन स्कूल में एडमिशन के वक्त उकी मां ने नाम बदलकर सपना रख दिया। वहीं उनका सरनेम भी बहुत कम लोग जानते हैं। सपना का सरनेम  अत्रि है। शुरू में वह सपना अत्रि सरनेम से ही जानी जाती थीं, लेकिन जब वह अपने स्टेज शोज से मशहूर होने लगीं तो फैन्स ने उन्हें सपना चौधरी नाम दे दिया।

जानें क्यों की थी सुसाइड की कोशिश

सपना चौधरी जो हरियाणवी लोकगीत ‘रागिनी’ गाने के लिए भी जानी जाती हैं। एक बार सपना चौधरी ने रागिनी विवाद के चलते साल साल 2016 में काफी मुसीबत में पड़ गई थीं।

बात इनती बढ़ गई थी कि उन्होंने जहर जहर खाकर सुसाइड करने की ​कोशिश की थी। सपना ने भद्दे और आपत्तिजनक मैसेज और कमेंट्स से तंग आकर खुदकुशी जैसा कदम उठाया था।

सपना पर अपने एक गाने में दलित विरोधी शब्द इस्तेमाल करने का आरोप लगा और गुरुग्राम में उनके खिलाफ एससी/एसटी ऐक्ट के तहत केस भी दर्ज हुआ। हालांकि बाद में मामला शांत हुआ और उन्हें बचा लिया गया।