सरकार और प्रशासन ने लिया यू टर्न : विधायक के हस्तक्षेप से मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों की हड़ताल वापस

सागर । सागर के बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों की हड़ताल क्षेत्रीय विधायक के हस्तक्षेप के बाद आज दोपहर को समाप्त हो गई है।

इसके पहले इन डॉक्टरों ने मेडिकल कॉलेज परिसर में इकट्ठे होकर प्रदर्शन भी किया।

डॉक्टरों की इस हड़ताल को स्थानीय एवं प्रांतीय स्तर पर समर्थन देने और उनके भी हड़ताल पर जाने की घोषणा के बाद से ही प्रशासन हरकत में आ गया था।

मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ जी एस पटेल और संभागीय कमिश्नर मुकेश शुक्ला ने हड़ताल ख़तम कराने को लेकर चर्चा शुरू कर दी थी। लेकिन डॉक्टर अपनी हड़ताल वापस लेने को तैयार नहीं हो पा रहे थे।

क्षेत्रीय विधाक शैलेंद्र जैन के हस्तक्षेप से प्रशासन और शासन से चर्चा के बाद हड़ताली डॉक्टरों की मांगने मान ली गई हैं।

इसके तहत कारण बताओ नोटिस और रजिस्ट्रेशन निरस्त करने की कार्यवाही को चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग की पहल पर वापिस ले लिया गया है।

इसके साथ ही मेडिकल कॉलेज में चिकित्सा और स्वास्थ्य सेवाएं बहाल हो गई हैं।
यश भारत प्रतिनिधि के मुताबिक बीते माह एक मरीज के इलाज में लापरवाही के मामले में डॉ. गौरव तिवारी और डॉ. पल्लवी मिश्रा को जिम्मेदार मानकर उन्हें नोटिस जारी किए गए थे। जिस पर चिकित्सा महाविद्यालय सागर के सभी डॉक्टर विरोध में आ गए थे।