कमलनाथ ने कहा, MP दुष्कर्म, बेरोजगारों, किसानों की पीड़ा की राजधानी बना

जबलपुर.। पूर्व CM कमलनाथ ने प्रदेश सरकार पर तीखा हमला बोला है। हाल की घटनाओं का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश दुष्कर्म, बेरोजगारों और किसानों की पीड़ा की राजधानी बन गया है। कमलनाथ रविवार को जबलपुर में थे। यहां उन्होंने सिविक सेंटर स्थित बगलामुखी मंदिर में पूजन किया। फिर पूर्व मंत्री लखन घनघोरिया के पिता के त्रयोदशी कार्यक्रम में भी शामिल हुए।

मीडिया से बातचीत में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि मध्य प्रदेश में प्रजातंत्र डूब रहा है। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश दुष्कर्म, बेरोजगारों और किसानों की पीड़ा की राजधानी बन गया है। प्रदेश की जनता भोली है, लेकिन मूर्ख नहीं। भाजपा को 15 साल बाद बाहर का रास्ता दिखाया, शिवराज को घर बैठाया।

बता दें कि अभी एक दिन पहले ही नरसिंगपुर में दलित महिला के साथ गैंगरेप व उसके बाद पांच दिन तक पुलिस में रिपोर्ट दर्ज न होने और उसके चलते महिला के खुदकुशी करने पर भी प्रदेश की भाजपा सरकार पर करारा हमला बोला था।

उन्होंने कहा कि यहां किसान, व्यापारी, युवा, हर वर्ग परेशान है। शिवराज ने फिर से झूठ की कहानी शुरू कर दी है। सौदे से सरकार बनाई है, प्रजातंत्र डूब रहा है, संविधान डूब रहा है, मध्य प्रदेश डूब रहा है।

कमलनाथ ने महिला उत्पीड़न और महिला सुरक्षा को लेकर शिवराज सरकार पर सवाल दागे। उन्होंने कहा- शिवराज सिंह बीते सात माह से जनता से झूठ की कथा कहते जा रहे हैं। जनता ने चुनाव में शिवराज के झूठ का इलाज किया था, इस बार भी करेगी।