शाहीनबाग धरने का चेहरा बनीं बिल्किस दादी ने दिया पीएम मोदी को आशीर्वाद, बताया अपना बेटा

नई दिल्‍ली। टाइम मैग्‍जीन द्वारा विश्‍व की 100 सबसे ताकतवर हस्तियों में शामिल की गई बिल्किस बानो ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपना बेटा बताते हुए उन्‍हें लंबी उम्र का आशीर्वाद दिया है। इस मैग्‍जीन द्वारा चयनित 100 प्रमुख हस्तियों के तौर पर उन्‍होंने अपना नाम चुने जाने पर भी खुशी का इजहार किया है। उन्‍होंने कहा कि पीएम मोदी उनके बेटे हैं। क्‍या हुआ जो उन्‍होंने मोदी को जन्‍म नहीं दिया। उनकी बहन ने ही उन्‍हें पैदा किया है। इस मौके पर उन्‍होंने कहा कि वो दुआ करती हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लंबी आयु हो और उन्‍हें तमाम खुशियां नसीब हों।

गौरतलब है कि टाइम मैग्‍जीन द्वारा चुनी गई विश्‍व की सौ प्रभावशाली हस्तियों में मोदी और बिल्किस बानों के साथ बॉलीवुड एक्‍टर आयुषमान खुराना, बायोलॉजिस्‍ट रविंद्र गुप्‍ता, सुंदर पिचाई का भी नाम शामिल है। ये सभी मौजूदा वर्ष 2020 के प्रभावशाली लोग हैं। बुधवार को जारी की गई इस सूची में हर क्षेत्र से लोगों को चुना गया है। फिर चाहे वो राजनीति से जुड़े हों या बिजनेस आइकॉन हों या फिर वो आम लोग हों जिन्‍होंने लोगों पर अपना प्रभाव छोड़ा है।

बिल्किस बानो ने बताया कि वो कभी स्‍कूल नहीं गईं। उन्‍होंने केवल कुरान शरीफ ही पढ़ी है। टाइम मैग्‍जीन द्वारा चुने जाने पर उन्‍‍‍‍‍हें काफी खुशी है। ब‍िल्किस दादी दिल्‍ली में एनआरआसी और सीएए के खिलाफ हुए धरना-प्रदर्शन का चर्चित चेहरा रही हैं। बिल्किस ने कहा कि उन्‍होंने कभी नहीं सोचा था कि वो दुनिया में इस तरह से मशहूर हो जाएंगी और पहचाची जाएंगी। इस धरना प्रदर्शन के दौरान ही वो शाहीन बाग की दादा बिल्किस के नाम से मशहूर हुईं। उत्‍तर प्रदेश के हापुड से ताल्‍लुक रखने वाली बिल्किस के पति का 11 वर्ष पहले देहांत हो गया था। फिलहाल वो दिल्‍ली के शाहिन बाग में अपनी बहू, पोते-पोतियों और अपनी दो बहनों के साथ रहती हैं।

जब उनसे कोविड-19 के खिलाफ भारत की जंग के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि हमारी पहली लड़ाई इसी महामारी के खिलाफ है। इसको दुनिया से खत्‍म करना होगा, यही सभी का मकसद होना चाहिए। टाइम मैग्‍जीन द्वारा चुने गए विश्‍व के सौ प्रभावशाली लोगों की सूची में बिल्किस बानों का नाम शामिल होने से उनका परिवार भी काफी खुश और उत्‍साहित है। उन्‍हें इस बात की भी खुशी है कि दुनिया ने दादी बिल्किस को पहचाना।