कंगना ट्वीट: देखो मेरे सपनों को कैसे तोड़ा, क्या यह दुष्कर्म नहीं?, कांग्रेस पार्टी को किया टैग  

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रणौत ने एक बार फिर बीएमसी द्वारा मुंबई स्थित अपने कार्यालय को गिराए जाने पर भड़ास निकाली। उन्होंने बृहस्पतिवार को ट्वीट किया कि उनके कार्यालय को गिराकर कई लोगों को बेरोजगार बना दिया और वे लोग अब राष्ट्रीय बेरोजगारी दिवस मना रहे हैं।

कंगना रणौत ने मुंबई के पाली हिल स्थित अपने प्रोडक्शन कार्यालय के ध्वस्त हिस्से की फोटो साझा कर ट्वीट किया, ‘मेरे कर्म स्थान को श्मशान बना दिया।

न जाने कितने लोगों का रोजगार छीन लिया, एक फिल्म यूनिट कई सौ लोगों को रोजगार देती है।

जब एक फिल्म रिलीज होती है तो थिएटर से लेकर पॉपकार्न बेचने वालों का घर चलता है। हम सबसे रोजगार छीन कर वे लोग आज राष्ट्रीय बेरोजगारी दिवस मना रहे हैं।’

उनका यह बयान कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिवस को बेरोजगारी दिवस पर टिप्पणी माना जा रहा है।

 

उन्होंने आगे लिखा कि यह दुष्कर्म है, मेरे सपनों का, मेरे हौसलों का, मेरे आत्मसम्मान का और मेरे भविष्य का। उन्होंने लिखा, एक उम्र बीत जाती है घर बनाने में और तुम आह भी नहीं करते बस्तियां जलाने में।’

अपने गिराए गए कार्यालय की फोटो साझा करते हुए कंगना ने लिखा, यह देखो क्या से क्या कर दिया मेरे घर को। जो कभी मंदिर था उसे कब्रिस्तान बना दिया, देखो मेरे सपनों को कैसे तोड़ा, क्या यह दुष्कर्म नहीं? अपने ट्वीट के साथ उन्होंने कांग्रेस पार्टी को टैग भी किया।

इससे पहले उन्होंने एक अन्य ट्वीट किया, ‘मैं एक क्षत्राणी हूं। सिर कटा सकती हूं, लेकिन सिर झुका सकती नहीं। राष्ट्र के सम्मान के लिए हमेशा आवाज बुलंद करती रहूंगी। मान, सम्मान, स्वाभिमान के साथ जी हूं और गर्व से राष्ट्रवादी बनकर जीती रहूंगी। सिद्धांत के साथ कभी समझौता न किया है न कभी करूंगी। जय हिंद।’