हंगामेदार होगा संसद का शीतकालीन सत्र

नई दिल्ली। संसद का शीतकालीन सत्र अब से कुछ देर बाद ही शुरू होने जा रहा है। माना जा रहा है कि गुजरात चुनाव के बाद यह सत्र बेहद हंगामेदार होगा। जहां सरकार अपने कई महत्वपूर्ण बिल पास करवाने की कोशिश में रहेगी वहीं विपक्ष विभिन्न मुद्दों पर सरकार को घेरने की तैयारी में हैै।

माना जा रहा है कि विपक्ष सरकार को गुजरात चुनाव में आचार संहिता के मामले पर घेर सकता है। बता दें कि गुजरात में दूसरे चरण के मतदान के दौरान पीएम मोदी लोगों से मिले थे जिसकी शिकायत कांग्रेस ने चुनाव आयोग से की है। कांग्रेस ने चुनाव आयोग पर पक्षपात के भी आरोप लगाए हैं।

सत्र शुरू होने से पहले बैठक में सरकार और विपक्षी दलों के बीच गुजरात चुनाव की तल्खी साफ दिखी। हालांकि, यह बैठक एग्जिट पोल आने से पहले की थी। कांग्रेस सहित समूचा विपक्ष सरकार के खिलाफ पूरी तरह से आक्रामक दिखा। इस दौरान विपक्ष ने जहां शीतकालीन सत्र छोटा करने के लिए सरकार को घेरा, वहीं जीएसटी, डोकलाम और पाकिस्तान के मुद्दे पर भी अपने तीखे तेवर दिखाए।

बैठक में तीन तलाक और ओबीसी आरक्षण जैसे मुद्दों पर भी गरमागरम चर्चा हुई। संसद का शीतकालीन सत्र शुरू होने से पहले गुरुवार को सरकार की ओर से विपक्षी दलों के नेताओं के साथ बैठक में गुजरात चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की ओर से एक-दूसरे पर बोले गए हमलों का असर भी साफ तौर पर दिखा। कांग्रेस ने इस मुद्दे पर जहां सरकार से सफाई देने को कहा, वहीं प्रधानमंत्री मोदी ने विपक्षी दलों से संसद को ठीक तरीके से चलने में सहयोग देने को कहा।

 संहिता का उल्लंघन नहीं 

चुनाव आयोग ने गुरुवार को साफ किया कि प्रधानमंत्री द्वारा पनडुब्बी को नौसेना में शामिल करना चुनाव आचार संहिता के दायरे में नहीं आता। प्रधानमंत्री ने गुजरात चुनाव के दूसरे चरण के मतदान वाले दिन यानी गुरुवार को ही आईएनएस कलवरी को नौसेना में शामिल किया है। कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने बुधवार को इसे चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन बताया था।

राहुल को सिर्फ नोटिस

चुनाव आयोग ने गुरुवार को स्पष्ट किया कि कांग्रेस के निर्वाचित अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ कोई एफआईआर दर्ज नहीं की गई है, उन्हें सिर्फ नोटिस जारी किया गया है। यह नोटिस गुजरात में प्रचार खत्म होने के बाद बुधवार को राहुल गांधी का इंटरव्यू एक गुजराती चैनल पर प्रसारित होने के कारण दिया गया है।

Hide Related Posts