OMG: समलैंगिक साथी के खिलाफ कुकर्म का केस दर्ज कराया, फिर उसके जेल जाते ही दुखी होकर आत्महत्या कर ली

Advertisements

जबलपुर । जिले के सिहोरा कस्बे में एक युवक ने पहले समलैंगिक साथी के खिलाफ कुकर्म का केस दर्ज कराया, फिर उसके जेल जाते ही दुखी होकर आत्महत्या कर ली। बताया जा रहा है कि दोनों के बीच समलैंगिक रिश्ता था।

पुलिस ने युवक का सुसाइड नोट भी बरामद किया है। इसमें युवक ने लिखा है कि वह दो वर्षों तक लिव इन में रहा, लेकिन परिवार वालों को ये रिश्ता मंजूर नहीं था। मेरे साथी को अलग कर दिया। मैं उसे फंसाना नहीं चाहता था। अब ये जुदाई बर्दाश्त नहीं हो रही। मुझे माफ करना मैं जा रहा हूं।

पुलिस के अनुसार, युवक ने शुक्रवार देर रात फांसी लगाई है। युवक की उम्र 22 साल थी। इसी युवक की शिकायत पर 15 दिन पहले उसके रूम पार्टनर को कुकृत्य के मामले में गिरफ्तार किया गया था। आरोपी फिलहाल जेल में है।

परिवार ने लगाया प्रतिबंध
पुलिस का कहना है कि दोनों युवक गांव से आए थे। यहां साथ-साथ काम करने के दौरान दोनों ने एक साथ रहना शुरू कर दिया। उसी दौरान दोनों के बीच समलैंगिक रिश्ता बन गया।

इसकी जानकारी उनके घरवालों को हुई। दोनों के घरवाले काम छुड़ाकर उन्हें अपने साथ ले गए। और कहीं आने-जाने पर प्रतिबंध लगा दिया। आत्महत्या कर चुके युवक ने 15 दिन पहले डायल 100 और सीएम हेल्पलाइन में शिकायत की। जिसके बाद पुलिस ने कुकृत्य का केस दर्ज करते हुए उसके साथी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था।

दो दिन से उदास था
पुलिस का कहना है कि अपने पार्टनर के जेल जाते ही युवक दुखी रहने लगा था। खाना भी बेहद कम खा रहा था। दो दिन से उसने घरवालों से बात करना तक बंद कर दिया और शुक्रवार रात को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सुसाइड नोट में उसने अपने संबंधों का जिक्र करते हुए साथी से माफी मांगी है।

Advertisements