अयोध्या को सील करने की तैयारी, 4 अगस्त से नहीं मिलेगा प्रवेश, जलमार्ग पर भी निगाह

Advertisements
Advertisements

प्रधानमंत्री के आगमन के चलते अयोध्या को चारों तरफ से सील करने की तैयारी है। इसके लिए अयोध्या समेत फैजाबाद शहर में प्रवेश के सभी मार्गों पर पूर्व में किए इंतजामों की मॉनिटरिंग की जा रही है। मुख्य कार्यक्रम की पूर्व संध्या से किसी को भी अयोध्या में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। वहीं लखनऊ के रास्ते सड़क से आने वाले वीवीआईपी को सहादतगंज से अयोध्या में प्रवेश देने की योजना बनाई जा रही है।

साथ ही अयोध्या जिले के पड़ोसी जनपद बस्ती, गोंडा, अंबेडकरनगर, बाराबंकी, सुलतानपुर, अमेठी आदि में पूर्व में ही नोडल अधिकारियों की नियुक्ति की जा चुकी है। इनके नेतृत्व में इन जनपदों की पुलिस बार्डर पर कड़ी निगरानी रखेगी। वहीं जल मार्गों पर कड़ी निगरानी रखने के लिए पीएसी, जल पुलिस की तैनाती की जा रही है।
प्रधानमंत्री के अयोध्या आगमन को लेकर हाईवे समेत अयोध्या के सभी छोटे-बड़े प्रवेश मार्गों पर बैरियर लगाए जाने की तैयारी है। यह सभी आगामी तीन अगस्त से कार्य करना शुरू कर देंगे। चार अगस्त की शाम से अयोध्या में प्रवेश प्रतिबंधित किया जा सकता है। इसके लिए सभी मार्गों पर पूर्व में किए इंतजामों की दोबारा मॉनिटरिंग की जा रही है।
अयोध्या में प्रवेश के प्रमुख रास्ते जालपा देवी चौराहा, मोहबरा बाईपास, बूथ नंबर चार, रामघाट, साकेत पेट्रोल पंप, बंधा तिराहा, हनुमान गुफा समेत अन्य छोटे रास्तों को बैरीकेडिंग लगाकर सील करने की तैयारी है। इसके अलावा हाइवे पर भी पूर्व में लगे बैरीकेडिंग पर अतिरिक्त सुरक्षाकर्मी तैनात कर आने जाने वाले लोगों की सघन तलाशी ली जाएगी।

साकेत महाविद्यालय से लेकर नयाघाट तक का मार्ग बना सुपर सिक्योरिटी जोन
पीएम सुरक्षा को लेकर कुल सात जोन बनाए गए हैं, इसमें हनुमानगढ़ी और सरयू तट जोन भी शामिल है। साकेत महाविद्यालय से लेकर नयाघाट तक के मुख्य मार्ग को सुपर सिक्योरिटी जोन में रखा गया है। इस मार्ग पर साकेत महाविद्यालय से आयोजन स्थल तक करीब एक किमी जिस पर प्रधानमंत्री सड़क के रास्ते सफर करेंगे, इन मार्गों पर लगे कई बैरियर सक्रिय हो गए हैं।

अयोध्या मुख्य मार्ग से राम जन्मभूमि की तरफ  जाने वाले सभी रास्ते सील किए जाने की तैयारी है। वहीं संभावना है कि पीएम नरेंद्र मोदी हनुमानगढ़ी में दर्शन और पूजन भी कर सकते हैं, इसे ध्यान में रखते हुए मुख्य मार्ग पर यातायात बंद किया जा सकता है।

पड़ोसी जनपद भी अलर्ट पर, नोडल अधिकारी रखेंगे नजर
पीएम के दौरे को लेकर अयोध्या के पड़ोसी जनपदों को भी अलर्ट पर रखा गया है। इन जनपदों में पूर्व में ही नोडल पुलिस अधिकारियों की तैनाती की गई थी, इन अधिकारियों ने मोर्चा संभाल लिया है। सरयू नदी पार पड़ोसी जनपद बस्ती व गोंडा की पुलिस द्वारा अयोध्या बार्डर पर लगातार चेकिंग की जा रही, इसके साथ पुलिस टीम द्वारा जल पुलिस के सहयोग से नदी में गश्त किया जा रहा है।

इसके अलावा अंबेडकरनगर, सुलतानपुर, अमेठी व बाराबंकी जनपद पुलिस द्वारा बार्डर क्षेत्र पर निगरानी रखी जा रही, उनके द्वारा आने जाने वाले वाहनों व संदिग्धों की तलाशी ली जा रही है। इन जनपदों के अधिकारियों द्वारा अयोध्या पुलिस से लगातार संपर्क रख सभी गतिविधियां शेयर की जा रही है।

Download Amar Ujala App for Breaking News in Hindi & Live Updates. https://www.amarujala.com/channels/downloads?tm_source=text_share

Advertisements
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: