ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया से हाथ मिलाने पर BJP देगी 10 रुपये इनाम, लोग बोले- हमसे 20 ले लो मगर

मध्य प्रदेश में बीजेपी ने कांग्रेस के नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया की घेराबंदी करने के लिए नया तरीका अपनाया है। बीजेपी के नेता और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की सरकार में मंत्री जयभान पवैया ने ऐलान किया है कि जो भी सिंधिया से उनका नाम लेकर हाथ मिलाएगा उसे 10 रुपए इनाम में दिए जाएंगे। पवैया को सिंधिया परिवार का कट्टर विरोधी माना जाता है। उन्होंने साथ में यह भी कहा कि हाथ मिलाने का एक वीडियो भी दिखाना होगा। एनबीटी के मुताबिक पवैया ने यह भी कहा कि कि ऐसा करने वालों को ‘प्रजातंत्र स्वाभिमान सम्मान’ भी दिया जाएगा।

दरअसल कुछ दिन पहले बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह तीन दिवसीय मध्य प्रदेश दौरे पर थे। उस दौरान उन्होंने प्रदेश में कांग्रेस के दिग्गज नेता माने जाने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया और कमलनाथ की घेराबंदी करने का निर्देश दिया था। उसके बाद से ही बीजेपी ने सिंधिया के प्रति आक्रामक रुख अख्तियार कर लिया।

हालांकि पवैया के इस ऐलान को लेकर सिंधिया के क्षेत्र के लोग काफी नाराज हैं। गुना शिवपुरी लोकसभा क्षेत्र में मौजूद सिंधिया के समर्थकों ने इस घोषणा का विरोध करते हुए यहां तक कह दिया कि अगर वह सिंधिया से हाथ मिलाते हैं तो उन्हें 10 रुपए नहीं बल्कि 1 लाख रुपए का इनाम दिया जाना चाहिए। इस पर पवैया ने कहा कि इतने पैसे उनके पास नहीं है। उनके इस बयान पर लोगों ने पलटवार करते हुए कहा कि वह सभी पवैया को उनकी गरीबी दूर करने के लिए 20-20 रुपए दे देंगे, लेकिन उन्हें इतनी घटिया हरकत नहीं करनी चाहिए।

मध्य प्रदेश के गुना से सासंद सिंधिया के लोकसभा क्षेत्र में दो विधायकों का अचानक निधन हो जाने के कारण प्रदेश में इस वक्त उपचुनाव होने वाले हैं। दोनों ही सीटों पर कांग्रेस के विधायकों का ही कब्जा था, ऐसे में जहां कांग्रेस उन सीटों पर अपनी पकड़ बनाए रखना चाहती है तो वहीं बीजेपी इस मौके को भुनाना चाहती है। बीजेपी इन सीटों को जीतने के लिए हर मुमकिन कोशिशें कर रही है। इसी के तहत शिक्षा मंत्री जयभान सिंह पवैया मुंगावली विधानसभा क्षेत्र गए थे। जहां उन्होंने सिंधिया के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए उन्हें सामंती कहा था और 10 रुपए का इनाम देने का ऐलान किया था।