बिल गेट्स ने विंडोज फोन से झाड़ा पल्ला, अब एंड्रॉयड करेंगे इस्तेमाल

Advertisements

वॉशिंगटन। माइक्रोसॉफ्ट के को-फाउंडर बिल गेट्स ने अपना मोबाइल प्‍लेटफॉर्म बदल लिया है। दुनिया के सबसे अमीर लोगों में से एक एक बिल गेट्स ने खुलासा किया है कि वह अब एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्‍टम यूज कर रहे हैं। हालांकि, उन्होंने यह खुलासा नहीं किया कि वह कौन सा फोन इस्तेमाल कर रहे हैं।

इस बीच जब गेट्स से पूछा गया कि क्या वह सेकेंड्री मोबाइल के रूप में एंड्रॉयड फोन का इस्तेमाल कर रहे हैं क्या? तो उन्होंने कहा कि नहीं, मैं आईफोन का इस्तेमाल नहीं कर रहा हूं। फॉक्स न्यूज को दिए एक इंटरव्‍यू में उन्होंने यह बात कही है।

माना जा रहा है कि वह हाल ही में वे विंडोज फोन से एंड्रॉयड पर शिफ्ट हुए हैं। इंटरव्‍यू के दौरान एप्‍पल के को-फाउंडर स्‍टीव जॉब्‍स के साथ रिश्‍तों को लेकर भी गेट्स से सवाल किए गए थे। ज्ञात हो कि कई मौकों पर इन दोनों के बीच वैचारिक मतभेद खुलकर देखे गए। खासकर एप्‍पल के नए आईफोन को लेकर। हालांकि, गेट्स इस सवाल का जवाब देने से बचते रहे।

गौरतलब है कि माइक्रोसॉफ्ट अपने मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम, विंडोज फोन को सफल बनाने के लिए शुरू से ही संघर्ष करता रहा है। साल 2014 में सॉफ्टवेयर की दिग्गज कंपनी ने नोकिया के हैंडसेट व्यवसाय के लिए 7.2 अरब डॉलर का भुगतान किया। मगर, विंडोज फोन की साल 2016 तक वैश्विक स्मार्टफोन की बिक्री में 1 फीसद से भी कम हिस्सेदारी रही।

माइक्रोसॉफ्ट के लेटेस्ट ऑपरेटिंग सिस्टम, विंडोज 10 से लैपटॉप, टैबलेट और डेस्कटॉप कंप्यूटर के अलावा स्मार्टफोन को चलाया जा सकता है। हालांकि, कुछ विंडोज 10 स्मार्टफोन भी जारी किए गए हैं। अप्रैल में, माइक्रोसॉफ्ट ने सैमसंग के गैलेक्सी 8 स्मार्टफोन के कस्टमाइज वर्जन को अपने यूएस स्टोर में बेचना शुरू किया। टेक कंसल्टेंसी आईएचएस मार्किट के विश्लेषक इयान फोग ने कहा कि माइक्रोसॉफ्ट के मौजूदा मुख्य अधिकारी सत्य नाडेला के नेतृत्व में माइक्रोसॉफ्ट की रणनीति एंड्रॉयड और आईफोन पर माइक्रोसॉफ्ट के ऐप और सेवाओं को व्यापक रूप से उपलब्ध कराना है।

Advertisements