मध्य प्रदेश के इंदौर, उज्जैन, जबलपुर और ग्वालियर में दिखा सूर्य ग्रहण का अद्भुत नजारा

Advertisements
Advertisements

भोपाल, जबलपुर। मध्य प्रदेश में सूर्य ग्रहण के दौरान अद्भुत नजारें देखने को मिले। चंद्रमा ने सूर्य को इस तरह ढंक लिया कि वो रात के चांद की तरह नजर आने लगा। सुबह करीब 10.14 से शुरू हुए सूर्य ग्रहण का करीब 1.47 पर समाप्त हो गया। ग्रहण करीब साढ़े तीन घंटे तक रहा। मध्य प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर खगोलशास्त्री इस अनोखे सूर्य ग्रहण को देखा। आम लोगों को भी इसके लेकर काफी उत्सुक्ता नजर आई और सुरक्षित साधनों ने उन्होंने भी इस खगोलिय घटना को देखा। ग्रहण काल के दौरान मंदिरों और घरों में लोग मंत्रजाप भी करते रहे। सूतक काल लगने के बाद शनिवार रात से ही मंदिरों के पट बंद कर दिए गए थे, जो अब सूतककाल खत्म होने पर खोले जाएंगे और मूर्तियों को गंगा जल से स्नान कराया जाएगा।

विभिन्न शहरों में सूर्य ग्रहण समापन का समय

  • भोपाल में 10.14 पर ग्रहण शुरू, 11.57 मध्य काल और 1.47 पर ग्रहण समापन

  • जबलपुर में 10.21 पर ग्रहण शुरू, 12.06 मध्य काल और 1.54 पर ग्रहण समापन

  • ग्वालियर में 10.19 पर ग्रहण शुरू, 12.02 पर मध्य काल और 1.50 पर ग्रहण समापन

  • इंदौर और उज्जैन में 10.10 से ग्रहण शुरू, 11.51 मध्य काल और 1.42 पर ग्रहण समापन

रतलाम में 10.09 से ग्रहण शुरू, 11.49 मध्य काल और 1.40 पर समापन

ग्रहण की समाप्ति पर करें दान

ग्रहण काल के सूतक काल में मूर्ति स्पर्श, पूजा-पाठ, अनुष्ठान, ध्यान निषेध है। इस समय संकीर्तन पाठ, रामनाम जाप व सूर्य मंत्र जाप करें। ग्रहण की समाप्ति के बाद स्नान, दान, पूजा-पाठ इत्यादि अवश्य करना चाहिए। रोगी, वृद्धजनों, बालकों को धार्मिक नियमों के भंग होने का दोष नहीं लगता है। ग्रहण के अनिष्ठ फल से बचने के लिए स्वर्ण निर्मित कांसे के बर्तन में तिल, वस्त्र व दक्षिणा के साथ श्रोत्रिय ब्राह्मण को दान करना चाहिए। सोने, चांदी का ग्रह बिंब बनाकर भी दान कर सकते हैं।

देवास में सूर्य ग्रहण की वजह से मां चामुंडा माता मंदिर और मां तुलजा भवानी मंदिर के पटों को बंद रखा गया।

अभी दो चंद्र ग्रहण और एक सूर्य ग्रहण

  • 5 जुलाई चंद्रग्रहण

सुबह 8:37 बजे से 11:22 बजे तक

यहां दिखेगा : अमेरिका, दक्षिण पूर्व यूरोप और अफ्रीका (भारत में नहीं दिखेगा)

  • 30 नवंबर चंद्रग्रहण

दोपहर 1:02 बजे से शाम 5:23 बजे तक रहेगा।

यहां दिखेगा : अमेरिका, प्रशांत महासागर, एशिया और आस्ट्रेलिया (भारत में नहीं दिखेगा)

  • 14 दिसंबर सूर्यग्रहण

शाम 7:03 बजे से 15 दिसंबर को रात 12 बजे तक रहेगा (भारत में नहीं दिखेगा।)

Advertisements

One thought on “मध्य प्रदेश के इंदौर, उज्जैन, जबलपुर और ग्वालियर में दिखा सूर्य ग्रहण का अद्भुत नजारा

Comments are closed.