मॉक पोल में गड़बड़ी से कांग्रेस सतर्क, दिग्विजय को डलेंगे 54 वोट

Advertisements
Advertisements

भोपाल । रास चुनाव के लिए कांग्रेस किसी भी तरह का जोखिम नहीं लेना चाहती है। पार्टी ने अपने पहले उम्मीदवार दिग्विजय सिंह की जीत सुनिश्चित करने के लिए 52 के बजाय 54 विधायकों को वोट डालने के निर्देश दिए हैं। बुधवार को मॉक पोल में हुई गड़बड़ी के चलते दो अतिरिक्त वोट रखने का निर्णय हुआ है। बाकी बचे 38 वोट दूसरे क्रम के उम्मीदवार फूलसिंह बरैया को मिलेंगे।

पार्टी ने व्हिप जारी कर दिया है। गुरुवार को हुए मॉक पोल में 89 वोट पड़े। बुधवार को गैर मौजूद रहे विधायक लक्ष्मण सिंह और केपी सिंह सहित अन्य सदस्य बैठक में उपस्थित थे। विधायक दल की बैठक में मॉक पोल के दौरान पांच मतपत्रों पर गलत ढंग से मतदान पाया गया। इसको लेकर सभी विधायकों को समझाइश देकर बताया गया कि छोटी सी गलती से मत खारिज हो सकता है। बुधवार को भी इसी तरह कुछ विधायकों ने गलती कर दी थी। कांग्रेस की ओर से दावा किया गया है कि सभी विधायक एकजुट हैं।

पूर्व सीएम कमल नाथ के निवास पर हुई विधायक दल की बैठक में संक्रमण के चलते कुणाल चौधरी नहीं पहुंचे। शुक्रवार को पीपीई किट पहनकर विस परिसर में मतदान करेंगे। उमंग सिंघार अनुमति लेकर नहीं आए, जबकि लक्ष्मण सिंह मॉक पोल के पहले बैठक से चले गए, कुल 89 विधायकों ने शिरकत की। इससे यह स्पष्ट हो गया है कि राज्यसभा की तीन सीटों में से दो भाजपा और एक सीट पर कांग्रेस की जीत सुनिश्चित हो गई है। एक सीट जीतने के लिए 52 वोटों की जरूरत है, जबकि कांग्रेस के पास कुल 92 विधायक ही हैं।

 

भाजपा के सदस्यों संख्या 107 है, जबकि उसे निर्दलीय और सपा-बसपा का भी समर्थन मिलने की उम्मीद है। पहली वरीयता दिग्विजय को विधायक दल की बैठक में कांग्रेस ने यह निर्णय किया है कि पहली वरीयता दिग्विजय और दूसरे क्रम पर बरैया रहेंगे। शुक्रवार को सुबह सभी विधायक एकत्र होंगे और मतदान करने जाएंगे।

कांग्रेस प्रवक्ता भूपेंद्र गुप्ता ने दावा किया कि बैठक में सभी विधायक मौजूद थे। दिग्विजय सिंह के लिए दो वोट अतिरिक्त लेकर चल रहे हैं, इसलिए 54 वोट डाले जाएंगे। चुनाव की तस्वीर स्पष्ट होने के बावजूद उन्होंने कहा कि तीसरी सीट पर चमत्कार भी हो सकता है।

 

बैठक को पूर्व कमल नाथ, दिग्विजय एवं बरैया ने भी संबोधित किया। बैठक में प्रदेश प्रभारी मुकुल वासनिक, सचिव सुधांशु त्रिपाठी, संजय कपूर, सुरेश पचौरी, कांतिलाल भूरिया व अजय सिंह भी मौजूद थे। जेपी धनोपिया ने मतदान संबंधी जानकारी दी, संचालन चंद्रप्रभाष शेखर ने किया।

प्रतिक्रिया

राज्यसभा चुनाव में फूल सिंह बरैया के जीतने की गुंजाइश नहीं है। कल विधायक दल की बैठक में न आने की जानकारी मैं पार्टी को दे चुका था। – केपी सिंह

 

मॉक पोल में एक भी मत रिजेक्ट नहीं हुआ, हमने बैठक में चुनाव की रणनीति तैयार की है। 54 मत दिग्विजय सिंह के लिए सुरक्षित किए गए हैं बाकी वोट बरैया को जाएंगे। – राम निवास रावत

Advertisements