प्रसूता को लेकर कटनी आ रही एंबुलेंस व ट्रक में भीषण भिड़ंत

कटनी। बरही थाना अंतर्गत बरही-कटनी मार्ग के बघिया मोड़ पर देररात एंबुलैंस व ट्रक के बीच भीषण भिडंत होने का मामला प्रकाश में आया है। एंबुलैंस प्रसव पीड़ा से तड़प रही एक प्रसूता को बरही शासकीय अस्पताल से जिला चिकित्सालय के लिए रवाना हुई थी। दुर्घटना में एंबुलैंस के परखच्चे उड़ गए तथा उसमें सवार प्रसूता के नवजात की गर्भ में ही मौत हो गई जबकि प्रसूता, आशा कार्यकर्ता व एंबुलैंस चालक सहित प्रसूता के परिजन हादसे में गंभीर रूप से घायल हो गए। सभी घायलों को बरही शासकीय अस्पताल व जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। दुर्घटना के संबंध में हमारे बरही संवाददाता से मिली जानकारी मुताबिक बरही थाना अंतर्गत ग्राम छपना निवासी 29 वर्षीय जानकी पति सुरेश कोल को प्रसव पीड़ा उठने के कारण परिजन उसे आशा कार्यकर्त्ता आरती सिंह के साथ शासकीय अस्पताल बरही लेकर आए थे। जहां प्रारंभिक जांच के बाद चिकित्सकों ने प्रसूता जानकी को सुरक्षित डिलेवरी के लिए रात लगभग 12 बजे जिला चिकित्सालय रिफर कर दिया। जिसके बाद जानकी के परिजन व आशा कार्यकर्त्ता आरती सिंह एंबुलैंस क्रमांक एम.पी.09एसी-7922 में जानकी को लेकर बरही से जिला चिकित्सालय कटनी के लिए रवाना हुए। उसीदौरान बरही-कटनी मार्ग के बघिया मोड़ पर तेज रफ्तार एंबुलैंस की भिड़ंत विपरीत दिशा से उतनी ही रफ्तार में आ रहे ट्रक क्रमांक एम.पी.19एमएच-3231 से हो गई। बताया जाता है कि दोनों वाहनों के बीच टक्कर इतनी जोरदार थी कि एंबुलैंस के परखच्चे उड़ गए तथा उसमें सवार प्रसूता जानकी कोल के नवजात की गर्भ में ही मौत हो गई जबकि प्रसूता जानकी कोल, आशा कार्यकर्त्ता आरती सिंह, एंबुलैंस चालक ग्राम सुतरी निवासी सुखराम यादव सहित जानकी के साथ रहे परिजन गंभीर रूप से घायल हो गए। दुर्घटना की जानकारी लगते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और प्रसूता सहित सभी घायलों को बरही शासकीय अस्पताल लेकर आई। जहां प्रारंभिक उपचार के बाद सभी घायलों को गहन उपचार के लिए जिला चिकित्सालय रिफर कर दिया गया।