नहीं बाज आया चीन, डोकलाम में 1800 सैनिकों ने डाला डेरा

Advertisements

भारत और चीन के बीच डोकलाम को लेकर जारी तनातनी शांति के साथ निपट जाने के बाद हर किसी को इस बात की उम्मीद थी कि अब बॉर्डर पर किसी तरह की हलचल चीन के द्वारा नहीं की जाएगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ, ड्रेगन अपनी हरकतों से बाज नहीं आया। डोकलाम पर जारी गतिरोध खत्म होने के बाद एक बार फिर चीन ने नापाक हरकत करते हुए क्षेत्र के पास डेरा डाल दिया है। टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक करीब 1600-1800 चीनी सैनिकों ने सिक्किम-भूटान-तिब्बत ट्राइ जंक्शन, डोकलाम के पास डेरा डाला है और उन्होंने निर्माण कार्य भी शुरू कर दिया है। चीनी सेना कड़ाके की ठंड में हेलीपैड, उन्नत सड़कों और शिविरों का निर्माण कर रही है।

रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय सुरक्षा सूत्रों का कहना है कि भारत का रणनीतिक उद्देश्य है कि वह चीन को डोकलाम के दक्षिणी इलाके जमशेरी रिज की तरफ रोड का निर्माण नहीं करने देगा। वहीं चीनी सेना हर साल अपनी उपस्थिति दर्ज कराने के लिए अप्रैल-मई और अक्टूबर-नवंबर के समय डोकलाम इलाके में आती है। इस साल भी चीनी सेना डोकलाम आई थी और सड़क का निर्माण कर रही थी, जिसका विरोध भारत द्वारा किया गया था। यह विरोध काफी लंबा चला और इसे लेकर भारत और चीन की सेना डोकलाम इलाके में करीब 73 दिनों तक आमने-सामने थी। इसका शांतिपूर्ण समाधान 28 अगस्त को किया गया।

Advertisements