फिर शुरू हुई राज्यसभा चुनाव की सुगबुगाहट, बदला जाएगा मतदान स्थल

Advertisements
Advertisements

भोपाल । मध्यप्रदेश में राज्यसभा की तीन रिक्त सीटों पर अगले महीने चुनाव होने की सुगबुगाहट है। लिहाजा, विधानसभा परिसर में मतदानस्थल को बदलने की कवायद चल रही है। इसी तरह विधायकों से भी उनके स्वास्थ्य से संबंधित जानकारी जुटाई जा रही है। मध्यप्रदेश में राज्यसभा की तीन सीटें खाली हो गई हैं।

ये सीटें दिग्विजय सिंह, प्रभात झा और सत्यनारायण जटिया का कार्यकाल नौ अप्रैल को समाप्त हो जाने के बाद से रिक्त है। नियमानुसार चुनाव अप्रैल में ही हो जाने थे, लेकिन कोरोना महामारी और लॉकडाउन के कारण इन सीटों पर अभी तक चुनाव नहीं कराया जा सका है। लॉकडाउन के दो महीने बीत जाने के बाद अब जून में राज्यसभा चुनाव होने की सुगबुगाहट शुरू हो गई है।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वीरा राणा ने विधानसभा पहुंचकर वहां राज्यसभा चुनाव की तैयारियों का जायजा लिया। बताया जाता है कि अभी तक विधानसभा में जहां राज्यसभा चुनाव का मतदान होता है। वह स्थान कोरोना महामारी के संक्रमण से बचने के शारीरिक दूरी के मापदंड के हिसाब से पर्याप्त नहीं है, इसलिए विधानसभा परिसर में राज्यसभा चुनाव के मतदान स्थल के लिए दूसरा स्थान देखा जा रहा है।

साथ ही विधायकों से उनके स्वास्थ्य से संबंधित जानकारियां भी जुटाई जा रही हैं। गौरतलब है कि राज्यसभा की 55 सीटें रिक्त हुई थीं, जिनमें से 37 पर निर्विरोध निर्वाचन हो चुका है। 18 सीटों पर चुनाव होना है, जिसके लिए चुनाव आयोग द्वारा सभी राज्यों के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी से रिपोर्ट मांगी गई है। मध्यप्रदेश की तीन रिक्त सीटों पर होने वाले चुनाव में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, ज्योतिरादित्य सिंधिया, फूलसिंह बरैया और सुमेर सिंह सोलंकी के भाग्य का फैसला होना है।

Advertisements
error: Content is protected !!