होमगार्ड सैनिकों की सेवाएं नहीं होंगी स्थगित, एक हजार सैनिकों को मिलेगा फायदा

भोपाल, Madhya Pradesh News : प्रदेश में होमगार्ड सैनिकों के सिर से सेवाएं स्थगित होने की तलवार अब हट गई है। शिवराज सरकार ने फैसला किया है कि एक जून से दिसंबर तक सेवा बाध्य काल (सर्विस ब्रेक) स्थगित रहेगी। इसका फायदा एक हजार से ज्यादा सैनिकों को मिलेगा।

गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि बाढ़ की आशंका को देखते हुए होमगार्ड सैनिकों की सेवाएं निरंतर रखने का निर्णय लिया है।

मीडिया से चर्चा में डॉ.मिश्रा ने बताया कि कोरोना संकट के दौरान होमगार्ड सैनिक क्वारंटाइन सेंटरों में मुस्तैदी के साथ काम कर रहे हैं। आगामी समय में भी इनकी सेवाएं बाढ़ प्रबंधन में ली जाएंगी। इसके मद्देनजर सेवा बाध्यकाल को स्थगित कर दिया है। एक जून से दिसंबर तक सर्विस ब्रेक स्थगित रहेगी और भविष्य में भी होमगार्ड के हित में सहानुभूतिपूर्वक निर्णय लिया जाएगा।

कमल नाथ सरकार ने किया था कॉल ऑफ का प्रावधान

है कि कमल नाथ सरकार ने छह-छह माह कॉल ऑफ करने की व्यवस्था बना दी थी। 31 मार्च को यह अवधि समाप्त हो रही थी, लेकिन सरकार ने 30 जून तक अवधि बढ़ा दी थी। इसे अब दिसंबर कर दिया है।

एक करोड़ टन गेहूं खरीदा

गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि अब तक रिकॉर्ड 104 लाख मीट्रिक टन (1.04 करोड़ टन) गेहूं समर्थन मूल्य पर खरीदा जा चुका है। 10 से 15 जिलों में लगभग खरीद का काम पूरा हो गया है। 11 हजार 860 करोड़ रुपये दस लाख 32 हजार किसानों के खातों में डाला जा चुका है।