भारत में 35 प्राइवेट लैब्‍स को कोरोना परीक्षण की ICMR से मंजूरी, पूरी लिस्‍ट में यह भी शामिल

नई दिल्‍ली। कोरोना वायरस (COVID19) के संदिग्‍ध अब प्राइवेट लैब में भी अपनी जांच करा सकेंगे। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (Indian Council of Medical Research) ने देशभर में 35 प्राइवेट लैब्‍स को कोविड 19 परीक्षण के लिए मंजूरी दे दी है। भारत में कोरोना वायरस के लगातार बढ़ मामलों के मद्देनजर इसे बेहद अहम निर्णय माना जा रहा है। हालांकि, आइसीएमआर में महामारी एवं संचारी रोग के प्रमुख आर गंगाखेड़कर ने इसे बारे में पहले ही बता दिया कि सरकार द्वारा उठाए गए कदम इतने प्रभावी और सख्त हैं कि कोरोना वायरस के मामले देश में मुश्किल से ही बढ़ेंगे, लेकिन जल्‍द ही इसकी जांच प्राइवेट लैब में कराने की अनुमति दी जाएगी।

देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्‍या 700 के पार पहुंच गई है। ऐसे में प्राइवेट लैब्‍स को जांच की अनुमति देकर मोदी सरकार ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने की दिशा में एक समझदारी वाला कदम उठाया है। दरअसल, कोरोना वायरस को रोकने का एक ही जरिया है कि इस वायरस से संक्रमित लोगों की जांच हो और उन्‍हें आइसोलेट किया जाए। इस बात को ध्‍यान में रखते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने 17 मार्च को निजी पैथोलॉजी लैब्स को कोरोना की जांच करने की अनुमति देने का फैसला किया था। मंत्रालय के अधिकारी ने बताया कि अभी सिर्फ सरकारी लैब को ही कोरोना वायरस की जांच करने की अनुमति है, लेकिन निजी लैब को इसकी अनुमति देकर जांच के कार्य में दोगुनी तेजी लाने का प्रयास किया जा रहा है।

भारत में जिन प्राइवेट लैब्‍स को कोरोना वायरस की जांच की अनुमति दी गई हैं, उनमें दिल्‍ली में 6, गुजरात में 4, हरियाणा में 3, कर्नाटक में 2, महाराष्‍ट्र में 9, ओडिशा में एक, तमिलनाडु में 4, तेलंगाना में 5 और पश्चिम बंगाल की एक लैब शामिल है। हालांकि, प्राइवेट लैब्‍स में जांच कितने में होगी, इसकी जानकारी अभी नहीं दी गई है। बता दें कि कोविड-19 के लिए सरकारी लैबों में मुफ्त जांच की जा रही है। बताया जा रहा है कि आइसीएमआर ने 7 लाख कोरोना वायरस जांच किट खरीदने का निर्णय लिया है, ताकि ज्‍यादा से ज्‍यादा लोगों की जांच की जा सके।

गौरतलब है कि भारत में कोरोना का कहर अन्‍य देशों के मुकाबले कुछ कम है। गुरुवार को कोरोना संक्रमण के कारण अलग-अलग राज्यों में कुल चार लोगों की मौत हो गई। इससे देश में मृतकों की संख्या 16 हो गई है। करीब 100 नए मामलों के साथ संक्रमितों का आंकड़ा भी 700 के पार पहुंच गया है। सबसे ज्यादा 19 नए मामले केरल में सामने आए। फिलहाल राहत की बात यह है कि स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक बार फिर कहा है कि देश में अब तक इस महामारी की स्टेज-3 यानी कम्युनिटी ट्रांसमिशन का कोई मामला सामने नहीं आया है।