Interpol ने दी पूरी World को चेतावनी, कोरोना की आड़ में सक्रिय हैं साइबर अपराधी Cyber criminal, रहें सावधान

इंटरपोल (अंतरराष्ट्रीय आपराधिक पुलिस संगठन) ने पूरी दुनिया के सभी लोगों को कोरोना वायरस की आड़ में फायदा उठाने वाले साइबर अपराधियों से और ऑनलाइन धोखाधड़ी से सावधान रहने की चेतावनी दी है। इंटरपोल ने लोगों से कहा है कि सर्जिकल मास्क और सैनिटाइजर जैसी मेडिकल सप्लाई ऑनलाइन खरीदते वक्त अतिरिक्त सावधानी बरतें, क्योंकि साइबर अपराधी स्थिति का फायदा उठाते हुए वित्तीय धोखाधड़ी कर रहे हैं।
संगठन के पास अभी तक ऐसे करीब 30 मामले आ चुके हैं। इन मामलों की कड़ी एशिया और यूरोप से जुड़ी हुई है। जानकारी के मुताबिक साइबर अपराधी ऐसे मामलों में लोगों को लाखों डॉलर का चूना लगा चुके हैं। कोरोना वायरस वैश्विक महामारी की वजह से सर्जिकल मास्क और सैनिटाइजर जैसी मेडिकल सप्लाई की बाजार में भारी कमी है। इन हालात में कई वेबसाइट और सोशल मीडिया अकाउंट सामने आए हैं जो ये मेडिकल सप्लाई ऑनलाइन बेचने का दावा करते हैं।

लोग इन वेबसाइट और अकाउंट से सामान ऑर्डर कर रहे हैं लेकिन उन्हें मेडिकल सप्लाई तो मिलती नहीं है साथ ही वह अपने पैसे से भी हाथ धो बैठ रहे हैं। इस संबंध में इंटरपोल के महानिदेशक जर्गन स्कॉट ने कहा, कोरोना वायरस की वजह से बनी परिस्थितियों और अनिश्चितता का फायदा उठाकर साइबर अपराधी आम लोगों को निशाना बना रहे हैं, जो केवल खुद को और अपने परिजनों की सुरक्षा सुनिश्चित करना चाहते हैं।

उन्होंने कहा, जो भी व्यक्ति ऑनलाइन माध्यम से मेडिकल सप्लाई खरीदने की सोच रहा है वह उस वेबसाइट या सोशल मीडिया अकाउंट की विश्वसनीयता को जांचने के बाद ही ऑर्डर करे, अन्यथा वह अपराधियों के चंगुल में आ सकते हैं और अपना पैसा गंवा सकते हैं। जानकारी के अनुसार ऐसे एक मामले में ही हजारों डॉलर की धोखाधड़ी सामने आई है।