विधायक नहीं तो उनके परिजन इस्तीफा दे सकते हैं: विधानसभा अध्यक्ष

Advertisements

भोपाल। मध्यप्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष श्री एनपी प्रजापति ने राज्यपाल श्री लालजी टंडन को लिखी एक चिट्ठी में बताया है कि आखिर क्यों उन्होंने १६ विधायकों के इस्तीफे अब तक स्वीकार नहीं किए। उन्होंने लिखा कि विधायकों के इस्तीफे ना तो उन्होंने प्रत्यक्ष उपस्थित होकर दिए और ना ही उनके परिवार से कोई सदस्य आया। अन्य व्यक्तियों के माध्यम से इस्तीफे विचाराधीन हैं। इस तरह उन्होंने स्पष्ट कर दिया कि यदि विधायकों के परिवार के सदस्य इस्तीफा लेकर आएं तो उन्हें स्वीकार किया जा सकता है।

विधानसभा स्पीकर ने अपने पत्र में लिखा कि १६ मार्च २०२० को विधानसभा का सत्र आयोजित किया गया था। इस सत्र में भी वह १६ विधायक नहीं आए जिनके स्त्री को लेकर अन्य लोग आए थे। विधानसभा स्पीकर ने लिखा कि मेरी नजर में सभी विधायक लापता है। उनकी तलाश की जानी चाहिए। विधानसभा का पीठासीन प्रमुख होने के नाते मैं बेहद चिंतित हूं। प्रदेश के कार्यकारी प्रमुख एवं अभिभावक होने के नाते आपको भी उचित कदम उठाना चाहिए।

इसे भी पढ़ें-  दुष्कर्म का आरोपित बड़नगर विधायक का बेटा करण मोरवाल मक्सी से गिरफ्तार

विधानसभा अध्यक्ष ने अपने पत्र में यह भी लिखा है कि लापता विधायकों के परिवार जन चिंतित हैं। लापता विधानसभा सदस्यों की कुछ परिवार जनों ने मेरे सामने आकर चिंता व्यक्त की है। हालांकि उन्होंने स्पष्ट नहीं किया कि वह व्यक्ति कौन थे एवं किस विधायक से संबंधित है। कुल मिलाकर उन्होंने राज्यपाल से अपील की है कि लापता विधायकों को मध्य प्रदेश लाने में मदद करें।

Advertisements