कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह ने फिर दिखाए तेवर, ट्विटर से हटाया कांग्रेस

Advertisements

भोपाल। मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार गठन से ही अपने तेवर दिखाने वाले विधायक लक्ष्मण सिंह ने संकट में खड़ी कमलनाथ सरकार को फिर से कुछ ऐसे तेवर दिखाए हैं जो कांग्रेस के लिए फिलहाल चिंता पैदा करने वाले हैं। लक्ष्मण सिंह ने अपने ट्विटर हैंडल से कांग्रेस शब्द हटा कर विधायक, कृषक और गायक के रूप में दर्शाया है। आपको बता दें कि लक्ष्मण सिंह पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के भाई है। कमलनाथ सरकार को घेरने उनकी बेबाक बयानी हमेशा चर्चा में रहती हैं।

विधायकों को मना कर लाना चाहिये

मध्यप्रदेश में सियासी उठापटक और गुणा-गणित के बीच मंगलवार को एक बार फिर मुख्यमंत्री आवास पर विधायक दल की बैठक हुई। विधायक दल की बैठक में पहुंचे दिग्विजय सिंह के भाई लक्ष्मण सिंह ने मीडिया से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने कहा, ‘बेंगलुरु में ठहरे विधायक हमारे साथी हैं। वे भाजपा में नहीं जा रहे हैं। ये अच्छी बात है। पार्टी के शीर्ष नेतृत्व को चाहिए कि उन्हें मनाकर यहां लाए। उनका अपमान करना गलत है। इससे पहले भी सोमवार को भी मुख्यमंत्री आवास पर विधायक दल की बैठक हुई थी।

इसे भी पढ़ें-  Shivraj Cabinet: 23 लाख से ज्यादा लोगों को गांव में ही मिलेगा राशन, युवाओं को रोजगार

नामांकन पत्र सही पाने पर सिंधिया को बधाई: दिग्विजय सिंह
बैठक में दिग्विजय सिंह ने सिंधिया को नामांकन पत्र सही पाए जाने पर उन्हें बधाई दी। उन्होंने कहा कि शिवराज सिंह को मुख्यमंत्री बनने की जल्दी है। इसलिए वह सरकार को अस्थिर करने का प्रयास कर रहे हैं। बता दें कि दिग्विजय सिंह ने ज्योतिरादित्य के नामांकन को लेकर आपत्ति जताई थी। हालांकि, बाद में चुनाव अधिकारी ने उस आपत्ति को खारिज कर दिया।

Advertisements