MP political situation: शिवराज सिंह ने दी अधिकारियों को चेतावनी, एक-एक का हिसाब लिया जाएगा

Advertisements

भोपाल। मध्य प्रदेश में जारी उठापटक के बीच पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार को पता है कि इनके पास अब बहुमत नहीं है परन्तु लगातार संवैधानिक पदों पर नियुक्ति की जा रही हैं। कुछ अधिकारी इनके कहने पर काम कर रहे हैं,मैं आज उनको चेतावनी देना चाहता हूं एक-एक की सूची बना रहा हूं, उनसे निपटा जाएगा, एक-एक का हिसाब किया जाएगा।

बता दें कि इससे पहले शिवराज सिंह ने राज्यपाल से अनुरोध किया है कि वह इस अल्पमत की सरकार की ओर से पिछले 3 दिनों में लिए गए फैसलों पर रोक लगाएं। पत्र मे कहा गया है कि मध्य प्रदेया की मौजूदा सरकार अल्पमत में है। यह सरकार राज्यपाल के कहने पर भी बहानेबाजी कर बहुमत परीक्षण से बच रही है।

इसे भी पढ़ें-  Bhopal धार्मिक भावनाएं भड़काने के आरोप में हेडमास्टर गिरफ्तार

उन्होंने आरोप लगाया गया है कि अल्पमत की सरकार ऐसी नियुक्तियां करती जा रही है जो संवैधानिक प्रकृति की है, जिनका कार्यकाल निश्चित होता है। उदाहरण के तौर पर मौजूदा सरकार ने राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष, युवा आयोग के अध्यक्ष, लोकसेवा आयोग के अध्यक्ष जैसे पदों पर नियुक्तियां की हैं।

भाजपा ने राज्यपाल से अनुरोध किया है कि ट्रांसफर और पोस्टिंग का अधिकार संविधान के अनुच्छेद 163 और 166 के तहत राज्यपाल में निहित होता है। ऐसे में राज्यपाल मौजूदा कमलनाथ सरकार को आदेश दे कि वह इन अधिकारों का दुरुपयोग ना करें। क्योंकि यह सरकार फिलहाल अल्पमत में है। भाजपा ने पिछले तीन दिनों के दौरान कमलनाथ सरकार की ओर से की गई ट्रांसफर-पोस्टिंग के फैसलों को निरस्त करने की मांग की है।

Advertisements