MP Govt Crisis: सीएम कमलनाथ ने विधायकों से कहा, किसी भी अफवाह पर ध्यान न दें  

Advertisements

MP Govt Crisis

भोपाल । कांग्रेस विधायक दल की लगातार दूसरे दिन मुख्यमंत्री निवास पर बैठक हुई। इसमें भाजपा की बार-बार फ्लोर टेस्ट की मांग पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सवाल उठाया कि बंधक बनाए गए 16 बंधक विधायकों पर भाजपा चुप क्यों है? वे फ्लोर टेस्ट के लिए तैयार हैं, बशर्ते बेंगलुरु में बंधक विधायकों को स्वतंत्र कराया जाए। उन्होंने अपने विधायकों को सलाह दी है कि वे किसी भी प्रकार की अफवाह पर ध्यान नहीं दें।

मुख्यमंत्री निवास में हुई कांग्रेस विधायक दल की बैठक में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी अवैधानिक रूप से सत्ता हासिल करने के लिए छटपटा रही है। वह फ्लोर टेस्ट पर तो खूब बात कर रही है, लेकिन बंधक 16 विधायक पर वो चुप क्यों है। सीएम ने कहा कि भाजपा अदालत में गई है।

इसे भी पढ़ें-  दुष्कर्म का आरोपित बड़नगर विधायक का बेटा करण मोरवाल मक्सी से गिरफ्तार

उन्होंने कहा कि न्यायालय पर पूरा विश्वास और पूरा भरोसा है। न्यायालय में हम अपना पक्ष मजबूती से रखेंगे। कमलनाथ नेकहा कि बेंगलुरु में 16 विधायकों को बंधक बनाकर, षड्यंत्रपूर्वक एक संवैधानिक संकट पैदा करने का प्रयास किया गया है।

MP Govt Crisis

मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा एक और तो संवैधानिक व्यवस्थाओं की दुहाई दे रही है, दूसरी तरफ गैर संवैधानिक तरीके से कांग्रेस के विधायकों को बंधक बनाकर रखा है। मुख्यमंत्री ने विधानसभा के बजट सत्र के पहले दिन सोमवार को कांग्रेस विधायकों की एकजुटता और मर्यादित आचरण की सराहना की।

उन्होंने कहा कि हम गांधी के मार्ग पर चल रहे हैं और यही हमारी शक्ति है। इसके आधार पर हम सत्ता लोलुप लोगों को मुंहतोड़ जवाब देकर प्रजातांत्रिक मूल्यों की रक्षा कर सकेंगे। नाथ ने कहा कि सदन में भाजपा के व्यवहार और आचरण से जाहिर है कि वे संवैधानिक तरीकों से नहीं, बल्कि अवैधानिक तरीके से सत्ता में आने के सपने देख रहे हैं।

इसे भी पढ़ें-  Theft Of Bicycle Belong To Preseident Of Vidhan Sabha: साइकिल यात्रा से पहले गायब हुई विधानसभा अध्यक्ष की साइकिल, ढूंढने में जुटी GRP

MP Govt Crisis

विधायक दल की बैठक में विधायकों के अलावा पूर्व मुख्यमंत्री व राज्यसभा सदस्य दिग्विजय सिंह, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के पर्यवेक्षक मुकुल वासनिक एवं हरीश रावत और पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह उपस्थित थे। बैठक का संचालन डॉ. गोविंद सिंह ने किया।

Advertisements